तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानिस्वामी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम पर तीखी टिप्पणी करते हुए उन्हें ‘धरती पर बोझ’ बताया है. उन्होंने यह बात पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान धारा 370 को लेकर दिए उनके एक बयान पर पलटवार करते हुए कही. इसके साथ ही पलानिस्वामी ने यह भी कहा, ‘पी चिदंबरम ने हमेशा से ही अपने निजी हितों की चिंता की है और कभी देश के बारे में नहीं सोचा.’

के पलानिस्वामी ने आगे कहा, ‘चिदंबरम लंबे समय तक केंद्रीय मंत्री रहे लेकिन उन्होंने कभी कावेरी जलविवाद के मुद्दे को लेकर टिप्पणी नहीं की. मैं उनसे पूछता हूं कि तमिलनाडु के लिए वे कौन सी योजनाएं लाए. देश को उन्होंने क्या फायदा पहुंचाया. इसीलिए मैं कहता हूं चिदंबरम इस धरती पर बोझ से ज्यादा कुछ नहीं हैं.’

इससे पहले बीते रविवार को पी चिदंबरम ने जम्मू-कश्मीर को लेकर किए गए केंद्र सरकार के फैसलों पर कहा था कि सात क्षेत्रीय दलों ने अगर सहयोग दिया होता तो राज्यसभा में सरकार धारा 370 को हटाने संबंधी प्रस्ताव पास नहीं करवा पाती. उनका यह भी कहना था कि इन क्षेत्रीय दलों ने ‘भय’ की वजह से भाजपा का साथ दिया और यह निराशाजनक है. तब चिदंबरम ने यह भी कहा था कि अगर जम्मू-कश्मीर हिंदू बहुल क्षेत्र होता तो भाजपा वहां से धारा 370 हटाने का फैसला कभी नहीं करती.

इस बीच केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने भी पी चिंदबरम के उस बयान की निंदा की है. साथ ही कहा है कि धारा 370 के मुद्दे को वे ‘सांप्रदायिक रंग’ देने की कोशिश कर रहे हैं.