हांगकांग में जल्द ही लोकतांत्रिक सुधारों की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों पर बड़ी कार्रवाई की जा सकती है. हांगकांग और चीन के सीमाई शहर शेनझेन में चीन के अर्द्धसैन्य बल की टुकड़ियां पहुंच चुकी हैं. उपग्रह की तस्वीरों में ये सामने आया है. इससे हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों के खिलाफ चीन द्वारा पुलिस बल की मौजूदगी बढ़ाने का संकेत मिलता है .

पीटीआई के मुताबिक सोमवार को उपग्रह से ली गई तस्वीरों में चीन के शेनझेन शहर के एक खेल परिसर में अर्द्धसैन्य बल ‘पीपुल्स आर्म्ड पुलिस’ के बख्तरबंद वाहन दिखाई पड़े हैं. बताया जाता है कि खेल परिसर के इर्द गिर्द अर्द्धसैन्य बलों की गाड़ियों की संख्या 500 से भी ज्यादा है.

हालांकि, चीन के सरकारी मीडिया ने इन खबरों का खंडन किया है. उसका कहना है कि यह काफी पहले से चल रही एक कवायद का हिस्सा है और हांगकांग में प्रदर्शन से इसका कोई लेना देना नहीं है.

हांगकांग में बीते दो महीने से चल रहा सरकार विरोधी प्रदर्शन सोमवार को एक नए स्तर पर जा पहुंचा था. लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों ने हांगकांग हवाई अड्डे पर यात्रियों के आवागमन को अवरुद्ध कर दिया था. काले कपड़े पहने प्रदर्शनकारी बड़ी संख्या में एयरपोर्ट के मुख्य टर्मिनल पर पहुंच गए जिससे सारी हवाई उड़ानें रद्द करनी पड़ी थीं. चीन ने प्रतिक्रिया देते हुए इसे आतंकवाद का उभार बताया था.

हांगकांग में ये उथल-पुथल हाल में एक प्रत्यर्पण विधेयक के चलते शुरू हुई थी जिसमें हांगकांग से चीन प्रत्यर्पण को आसान बनाने का प्रावधान था. लेकिन भारी विरोध के बाद स्थानीय प्रशासन को कदम पीछे खींचने पड़े. लेकिन विरोध प्रदर्शन अब भी जारी है. प्रदर्शनकारी अब लोकतांत्रिक सुधारों की मांग कर रहे हैं.