इतिहास में 15 अगस्त का दिन भारत की आजादी के दिन के रूप में दर्ज है. अंग्रेजों की लंबी गुलामी के बाद 1947 में आज ही के दिन देश ने आजाद हवा में सांस ली और एक नई सुबह का सूरज देखा. हालांकि इस खुशी के साथ देश के बंटवारे का कभी न भरने वाला जख्म भी था. देश ने स्वतंत्र होने की खुशी मनाई, लेकिन विभाजन के बाद हुए दंगों और सांप्रदायिक हिंसा ने कई लोगों के लिए इस खुशी को बेमतलब कर दिया.

इसके अलावा, 15 अगस्त की तारीख भारतीय डाक सेवा के इतिहास में एक खास कारण से दर्ज है. दरअसल, 15 अगस्त, 1972 के ही दिन पोस्टल इंडेक्स नंबर अर्थात् पिन कोड लागू किया गया था. इस नए डाक सिस्टम के चलते हर इलाके के लिए अलग पिन कोड हो गया जिससे डाक की आवाजाही में आसानी होने लगी.

देश-दुनिया के इतिहास में 15 अगस्त की तारीख में दर्ज अन्य प्रमुख घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:

1519 : पनामा शहर बनाया गया.

1854 : ईस्ट इंडिया रेलवे ने कलकत्ता (अब कोलकाता) से हुगली तक पहली यात्री ट्रेन चलाई. हालांकि आधिकारिक तौर पर इसका संचालन 1855 में शुरू हुआ.

1886 : भारत के महान संत एवं विचारक गुरु रामकृष्ण परमहंस उर्फ गदाधर चटर्जी का निधन.

1947 : पंडित जवाहरलाल नेहरू ने आजाद भारत के पहले प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली.

1947 : रक्षा वीरता पुरस्कार-परमवीर चक्र, महावीर चक्र और वीर चक्र की स्थापना.

1975 : बांग्लादेश में सैनिक क्रांति.

1950 : भारत में 8.6 के तीव्रता वाले भूकंप के कारण 20 से 30 हजार लोग मारे गए.

1971 : बहरीन ब्रिटेन के शासन से आजाद हुआ.

1982 : राष्ट्रव्यापी रंगीन प्रसारण और टीवी के राष्ट्रीय कार्यक्रम की शुरुआत.

1990 : जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइल ‘आकाश’ का सफल प्रक्षेपण.

2007 : दक्षिण अमेरिकी देश पेरु के मध्य तटीय इलाके में 8.0 तीव्रता के भूकंप से 500 से ज्यादा लोगों की मौत.