देश के बंटवारे के समय पंजाब में हुए खूनी दंगों के बारे में तो सभी जानते हैं, लेकिन आजादी से ठीक एक बरस पहले 16 अगस्त, 1946 को कलकत्ता (अब कोलकाता) में हुए दंगों ने बंगाल की जमीन को लाल कर दिया था. इन दंगों की शुरूआत पूर्वी बंगाल के नोआखाली जिले से हुई थी. बताया जाता है कि ये दंगे तीन दिनों तक चले और इनमें 6,000 से अधिक लोग मारे गए. वहीं, 20 हजार से अधिक गंभीर रूप से घायल हुए और एक लाख से ज्यादा लोग बेघर हो गए.

देश-दुनिया के इतिहास में 16 अगस्त के दिन दर्ज कुछ अन्य महत्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:

1691 : अमेरिका में योर्कटाउन, वर्जीनिया की खोज.

1777 : अमेरिका ने ब्रिटेन को बेनिंगटन के युद्ध में हराया.

1787 : तुर्की ने रूस के विरुद्ध युद्ध की घोषणा की.

1886 : राम कृष्ण परमहंस देव ने गोधूलि वेला में अंतिम सांस ली.

1906 : दक्षिण अमेरिकी देश चिली में भीषण भूकंप में बीस हजार लोगों की मौत.

1924 : नीदरलैंड-तुर्की के बीच शांति समझौते पर हस्ताक्षर.

1960 : साइप्रस को ब्रिटेन से मुक्ति मिली. वहां इस दिन को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है.

1990 : चीन ने अपना पहला परमाणु परीक्षण किया.

2000 : वेरेंटर्स सागर में रूस की परमाणु पनडुब्बी दुर्घटनाग्रस्त.

2003 : लीबिया ने लाकरवी बम विस्फोट की जिम्मेदारी ली.

2008 : कांगो में तैनात 125 भारतीय पुलिस अफसरों को संयुक्त राष्ट्र शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

2012 : विकिलीक्स के संस्थापक जुलियन असांजे को इक्वाडोर ने राजनयिक शरण दी.

2018 : पूर्व प्रधानमंत्री, कवि ह्रदय और प्रखर वक्ता अटल बिहारी वाजपेयी का 93 वर्ष की आयु में निधन.