जम्मू-कश्मीर में सोमवार से स्कूल और सरकारी दफ्तर खुल जाएंगे. एनडीटीवी ने सूत्रों के हवाले से यह खबर दी है. उधर, केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि सूबे में अलग-अलग सेवाओं पर लगी पाबंदियां भी अगले कुछ दिनों में हटा ली जाएंगी. सरकार का कहना है कि जमीन पर हालात तेजी से सुधर रहे हैं. धारा 370 निष्प्रभावी किए जाने के बाद से जम्मू-कश्मीर में इंटरनेट और फोन सेवाओं पर रोक है. यातायात पर भी कई तरह के प्रतिबंध लगाए गए हैं. राज्य में सुरक्षा बलों की तादाद भी काफी बढ़ा दी गई है.

इससे पहले 12 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू-कश्मीर में फोन और इंटरनेट सहित कई सेवाओं पर लगी पाबंदी को हटाने को लेकर तत्काल कोई निर्देश देने से इंकार कर दिया था. शीर्ष अदालत ने कहा कि राज्य की स्थिति बहुत ही संवेदनशील है. सुप्रीम कोर्ट का यह भी कहना था कि सरकार को हालात सामान्य करने के लिये जरूरी समय दिया जाना चाहिए. कोर्ट कांग्रेस नेता तहसीन पूनावाला की याचिका पर सुनवाई कर रहा था. सुनवाई के दौरान केंद्र की तरफ से अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कहा था कि हालात सामान्य होने में कुछ दिन का समय लगेगा. इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वह जम्मू-कश्मीर में स्थिति सामान्य होने का इंतजार करेगा और मामले में दो हफ्ते बाद सुनवाई की जाएगी.