पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शुक्रवार को कश्मीर मुद्दे पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से टेलीफोन पर बात की है. पीटीआई के मुताबिक पाकिस्तान की सरकारी मीडिया ने यह खबर दी है.

रेडियो पाकिस्तान की खबर के मुताबिक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने जानकारी देते हुए कहा कि इमरान खान ने संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में हो रही सुरक्षा परिषद की बैठक को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति को भरोसे में लिया है. इस बैठक में कश्मीर मुद्दे पर चर्चा हो रही है.

कुरैशी ने आगे कहा, ‘प्रधानमंत्री खान ने कश्मीर के ताजा घटनाक्रम और क्षेत्रीय शांति पर इसके खतरे के संबंध में पाकिस्तान की चिंता से डोनाल्ड ट्रंप को अवगत कराया है.’ पाक विदेश मंत्री के मुताबिक दोनों नेताओं के बीच काफी देर तक दोस्ताना माहौल में बातचीत हुई. दोनों ने कश्मीर मुद्दे पर संपर्क में रहने पर भी सहमति जताई है.

उधर, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में चीन की मांग पर जम्मू-कश्मीर मुद्दे को लेकर बैठक शुरू हो गई है. खबरों के मुताबिक कश्मीर को लेकर रूस भारत के पक्ष में है. उसने द्विपक्षीय बातचीत के जरिये इस मुद्दे को सुलझाने का समर्थन किया है.

पाकिस्तान यूएनएससी में लगातार जम्मू-कश्मीर के मुद्दे को उठाने की कोशिश कर रहा है. पिछले दिनों उसने अंतरराष्ट्रीय मंच पर यह मुद्दा काफी उठाया, लेकिन उसकी एक भी दलील काम नहीं आई. चीन को छोड़कर सुरक्षा परिषद के लगभग सभी देशों ने उसे उलटे पांव लौटा दिया.

यूएनएससी में सदस्यों की संख्या 15 है जिसमें से 5 स्थायी और 10 अस्थायी हैं. अस्थायी सदस्यों का कार्यकाल कुछ ही वर्षों का होता है, जबकि स्थायी सदस्य वही रहते हैं. इसके स्थायी सदस्य अमेरिका, रूस, चीन, ब्रिटेन और फ्रांस हैं. जबकि अस्थाई देश बेल्जियम, कोट डी आइवर, डोमिनिक रिपब्लिक, इक्वेटोरियल गिनी, जर्मनी, इंडोनेशिया, कुवैत, पेरू, पोलैंड और दक्षिण अफ्रीका हैं.