केंद्र सरकार द्वारा धारा 370 हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में संचार सेवा पर पिछले 12 दिनों से लगी पाबंदियां आंशिक रूप से बहाल की गई हैं. खबर के मुताबिक जम्मू के पांच जिलों जम्मू, रियासी, सांबा, काठू और उधमपुर में आज सुबह मोबाइल इंटरनेट सेवा एक बार फिर शुरू कर दी गई. लेकिन कश्मीर में मोबाइल सेवाएं अभी भी ठप हैं.

हालांकि पीटीआई के मुताबिक घाटी के 17 एक्सचेंज में लैंडलाइन सेवाएं आज बहाल कर दी गईं. समाचार एजेंसी ने अधिकारियों के हवाले से यह जानकारी दी है. उन्होंने बताया कि ये एक्सचेंज अधिकतर सिविल लाइन्स क्षेत्र, छावनी क्षेत्र और श्रीनगर जिले के हवाई अड्डे के पास हैं.

खबर के मुताबिक मध्य कश्मीर में बडगाम, सोनमर्ग और मनिगम में लैंडलाइन सेवाएं बहाल की गई हैं. वहीं, उत्तर कश्मीर में गुरेज, तंगमार्ग, उरी केरन करनाह और तंगधार इलाकों में सेवाएं फिर शुरू की गई हैं. इसके अलावा दक्षिण कश्मीर में काजीगुंड और पहलगाम इलाकों में लैंडलाइन सेवाओं की बहाल हुई है.

इससे पहले शुक्रवार को जम्मू-कश्मीर के मुख्य सचिव बीवीआर सुब्रमण्यम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर घोषणा की थी कि घाटी में चरणबद्ध तरीके से टेलीकॉम सेवाएं बहाल की जाएंगी. उन्होंने कहा कि सरकार को मोबाइल कनेक्टिविटी के जरिये धमकी देने वाले आतंकी संगठनों को ध्यान में रखते हुए काम करना होगा. मुख्य सचिव ने कहा कि हफ्ते के अंत तक ज्यादातर लाइनें काम करने लगेंगी.