पाकिस्तान में एक मस्जिद में हुए बम धमाके में पांच लोगों की मौत हो गई. पीटीआई के मुताबिक यह धमाका बलूचिस्तान प्रांत की राजधानी क्वेटा के पास हुआ. नमाज के दौरान हुए इस हमले में जो लोग मारे गए उनमें एक शीर्ष तालिबान आतंकवादी का भाई भी शामिल है. तालिबान से जुड़े सूत्रों ने यह जानकारी दी है. इस हमले में 22 लोग घायल भी हुए हैं.

पाकिस्तान का बलूचिस्तान प्रांत काफी समय से अस्थिरता का शिकार रहा है. बीते मई में इसके तटीय शहर ग्वादर के एक पांच सितारा होटल पर कुछ आतंकियों ने हमला किया था. इस हमले में होटल के चार कर्मचारियों और पाकिस्तानी सेना के एक जवान की मौत हो गई. इस हमले की जिम्मेदारी अलगाववादी संगठन बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी (बीएलए) ने ली थी.

बीएलए पाकिस्तान के दक्षिण-पश्चिमी प्रांत बलूचिस्तान में सक्रिय एक अलगाववादी संगठन है. यह दशकों से एक अलग देश की मांग कर रहा है. पाकिस्तान की सरकार ने इसे एक आतंकी संगठन घोषित कर रखा है. बीते साल अगस्त में बीएलए ने बलूचिस्तान के डेरा बुगती जिले में चीनी नागरिकों और इंजीनियरों को ले जा रही एक बस को निशाना बनाते हुए आत्मघाती हमला किया था. इसमें तीन चीनी नागरिक गंभीर रूप से घायल हुए थे.