शनिवार को शाम करीब पांच बजे दिल्ली के ​अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के इमरजेंसी वॉर्ड के पास भीषण आग लग गई. खबरों के मुताबिक आग को काबू करने के काम में दमकल की 34 गाड़ियां मौके पर जुटी हुई हैं. यह आग कैसे लगी फिलहाल इसके कारणों का पता नहीं चला है. लेकिन इसके पीछे शॉर्ट सर्किट के होने की संभावना जताई जा रही है.

इस दौरान एम्स के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा है, ‘आग किसी वॉर्ड में नहीं लगी और यह न ही वहां तक पहुंची है. आग से आपातकालीन लैब प्रभावित हुआ है. लेकिन जब आग लगी तो उस वक्त वहां कोई मौजूद नहीं था इसलिए इससे किसी जान का नुकसान नहीं हुआ है.’ वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक ट्वीट करके लोगों से संयम बरतने और दमकल कर्मियों को अपना काम करने देने की अपील की है. उन्होंने यह भी कहा है कि आग पर जल्दी ही काबू पा लिया जाएगा.

इधर, आग की वजह से एम्स परिसर का एक बड़ा हिस्सा धुएं से भर गया है. इस बीच यह भी बताया गया है कि एहतियाती तौर पर वार्ड संख्या एबी-1 और एबी-7 को खाली करवाकर वहां के मरीजों को दूसरी जगह स्थानांतरित कर दिया गया है.