टाटा मोटर्स ने अपनी हैचबैक टियागो और सबकॉम्पैक सेडान टिगोर के परफॉर्मेंस फ्रेंडली एडिशन ‘जेटीपी’ को अपडेट किया है. टियागो और टिगोर जेटीपी के नए एडिशन में टाटा ने कॉस्मेटिक के साथ फीचर्स के मोर्चे पर खास बदलाव किए हैं. टाटा मोटर्स ने इन कारों के जेटीपी एडिशन को कोयंबटूर की जयेम ऑटोमोबाइल के साथ 50:50 साझेदारी में पिछले साल तैयार किया था. इन एडिशनों को जेटीपी (जयेम टाटा परफॉर्मेंस) नाम उसी साझेदारी के चलते मिला है. यदि टियागो और टिगोर के सामान्य मॉडल से तुलना की जाए तो जेटीपी एडिशन ज्यादा पॉवर और मैकेनिकल अपग्रेड्स के साथ आता है. टाटा टियागो जेटीपी की कीमत 6.69 लाख रुपए है तो टाटा टिगोर जेटीपी की कीमत 7.59 लाख रुपए (दिल्ली एक्सशोरूम कीमत) तय की गई है. टाटा मोटर्स का कहना है कि उसने ये दो कारें खासतौर पर उन ग्राहकों को ध्यान में रखकर तैयार की है जो कम बजट में रफ़्तार और परफॉर्मेंस दोनों चाहते हैं.

नई टिगोर और टियागो के साथ दिए गए नए कॉन्ट्रास्ट कलर के ऑटो फोल्ड ओआरवीएम और पिआनो ब्लैक कलर का शार्क फिन एंटीना फ्रेश अपील देते हैं. दोनों कारों के अन्य स्टाइल फीचर्स में जेटीपी बैज लगी ग्लास ब्लैक फिनिश्ड ग्रिल, कॉन्ट्रास्ट ब्लैक फिनिश्ड रूफ, डायमंड कट अलॉय व्हील्स, फॉक्स हूड स्कूप्स और रिवाइस्ड डिज़ाइन के बंपर शामिल हैं. यदि टेक्निकल फीचर्स के मामले से जुड़े बदलावों की बात करें तो वे ऑटोमेटिक क्लाइमेट कंट्रोल और हार्मन सोर्स्ड 7-इंच टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम के तौर पर नज़र आते हैं. ये इंफोटेनमेंट सिस्टम एपल कार प्ले और एंड्रॉयड ऑटोकनेक्टिविटी जैसी खूबी से लैस है. इससे पहले यह फीचर इस साल लॉन्च हुई स्टैंडर्ड टियागो के टॉप ट्रिम के साथ दिया गया था.

परफॉर्मेंस के मामले में टाटा मोटर्स ने टाटा ने टिगोर और टियागो के साथ अपना मौजूदा 1.2 लीटर का टर्बोचार्ज्ड 3-सिलेंडर पेट्रोल इंजन दिया है जो 112 बीएचपी पॉवर और 150 एनएम पीक टॉर्क जनरेट करने की क्षमता रखता है. टाटा मोटर्स ने दोनों ही कारों में 5-स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स दिया है. इस इंजन की मदद से ये कारें 0-100 किलोमीटर/घंटा की रफ़्तार पकड़ने में 10 सेकंड का समय लेती हैं. इसके अलावा इन कारों को बेहतर राइड कंट्रोल देने के लिए इनके सस्पेंशन को भी पहले से बढ़िया ट्यून किया गया है. वहीं, कारों के साथ दिए गए चौड़े टायर सड़क पर बेहतर पकड़ बनाए रखने में प्रभावी साबित होते हैं. इसके अलावा इन दोनों गाड़ियों में सुरक्षा के लिहाज से डुअल एयरबैग्स, एंटीलॉक ब्रेकिंग सिस्टम (एबीएस) और इलैक्ट्रॉनिक ब्रेकफोर्स डिस्ट्रिब्यूशन (ईबीडी) और कॉर्नर स्टेबिलिटी कंट्रोल जैसे फीचर भी मिलते हैं.

सबसे सस्ती बुलेट

रॉयल एनफील्ड ने अपनी लोकप्रिय बाइक बुलेट-350 का सबसे किफायती मॉडल ‘एक्स’ लॉन्च किया है. बुलेट एक्स के किकस्टार्ट (केएसएक्स) वेरिएंट की कीमत 1 लाख 12 हजार रुपए और इलेक्ट्रिक स्टार्ट (ईएसएक्स) वेरिएंट की कीमत 1.26 लाख रुपए तय की गई है. ये दोनों ही वेरिएंट कंपनी की मौजूदा सबसे सस्ती बुलेट स्टैंडर्ड के दोनों वेरिएंट्स से करीब 14 हजार रुपए कम हैं. बाज़ार में इस बाइक का इंतजार लंबे समय से किया जा रहा था. जानकारों का कहना है कि हर ऑटो कंपनी की तरह रॉयल एनफील्ड भी बीते कई महीनों से मंदी की मार झेल रही है. ऐसे में बुलेट-एक्स के ज़रिए कंपनी ने अपने बिक्री आंकड़ों को बढ़ाने की कोशिश की है. इसके अलावा कंपनी की इस कवायद को जल्द ही बाज़ार में दौड़ती नज़र आने वाली जावा बाइक्स को कीमत के मोर्चे पर टक्कर देने से जोड़कर भी देखा जा रहा है.

बुलट ईएसएक्स

लुक्स के मामले में रॉयल एनफील्ड ने बुलेट-एक्स को इस तरह तैयार किया है कि वह बाज़ार में मौजूद बुलेट सीरीज़ से मिलती-जुलती होने के बावजूद बिल्कुल नई नज़र आती है. नई बुलेट केएसएक्स को- बुलेट सिल्वर, सफायर ब्लू और बुलेट ईएसएक्स को रीगल रेड, रॉयल ब्लू और ज़ेट ब्लैक कलर में लॉन्च किया गया है. इसके अलावा नई बाइक के फ्यूल टैंक पर दिए गए विंग्ड (पंख) ग्राफिक्स पोस्ट-वॉर दौर वाली बुलेट की याद दिलाते हैं. साथ ही ईएसएक्स के साथ दिया गया रॉयल एनफील्ड का 3-डी बैज इसे अपमार्केट लुक देता है. बाइक के ऑल ब्लैक वर्ज़न को छोड़कर बाकी सभी कलर स्कीम में इंजन समेत दूसरे बॉडी पार्ट्स पर क्रोम फिनिश को बेहद कम करते हुए ब्लैक फिनिश टच दिया गया है. स्पॉक व्हील्स पर भी क्रोम की बजाय ब्लैक ट्रीटमेंट ही दिया गया है. इनके अलावा नई बुलेट के साथ लंबी सीट, फ्लैट हैंडलबार और इंस्ट्रुमेंट कंसोल जैसी ख़ूबियां भी नज़र आती हैं.

जैसा कि नाम से स्पष्ट है बुलेट-एक्स के साथ कंपनी ने अपना मौजूदा 346 सीसी क्षमता का सिंगल-सिलेंडर, एयर-कूल्ड इंजन दिया है जो 19.8 बीएचपी पॉवर और 28 एनएम का पीक टॉर्क पैदा करता है. कंपनी ने इस इंजन को 5-स्पीड गियरबॉक्स से जोड़ा है. बाइक के अगले हिस्से में टेलिस्कोपिक फोर्क्स और पिछले हिस्से में मोनोशॉक सस्पेंशंस लगे हैं. वहीं बाइक के फ्रंट व्हील में डिस्क ब्रेक और पिछले व्हील में ड्रम ब्रेक देने के साथ सिंगल-चैनल एबीएस भी उपलब्ध कराया गया है. यूं तो अपने सेगमेंट में बुलेट-एक्स का कोई प्रतिद्वंदी नज़र नहीं आता. लेकिन बजट रेंज की वजह से यह बाइक टीवीएस अपाचे आरटीआर-200 4वी और बजाज पल्सर एनएस-200 खरीदने का मन बना रहे कुछ ग्राहकों को अपनी तरफ़ आकर्षित कर सकती है.

बजाज की नई पल्सर निऑन

बजाज ऑटो ने अपनी लोकप्रिय बाइक पल्सर रेंज की 125 सीसी की एंट्री लेवल बाइक ‘निऑन’ लॉन्च की है. अब तक इस सेगमेंट में हीरो ग्लैमर और होंडा शाइन जैसी बाइकें संतोषजनक प्रदर्शन करने में सफल रही हैं. बजाज ने पल्सर-135 से अलग इस बाइक को अपनी पल्सर-150 वाला ही लुक दिया है. बजाज ने नई पल्सर को दो वेरिएंट में लॉन्च किया है जिसके स्टैंडर्ड ड्रम ब्रेक वेरिएंट की दिल्ली में एक्सशोरूम कीमत 64,000 रुपए है, जो फ्रंट डिस्क ब्रेक के साथ 66,618 रुपए तक जाती है . बजाज ने अपनी इस नई पेशकश को तीन रंगों- निऑन ब्लू (ऑन मैट ब्लैक बॉडी), सोलर रैड और प्लेटिनम सिल्वर में उपलब्ध करवाया है.

पल्सर निऑन

बजाज पल्सर 125 निऑन में 125सीसी क्षमता का डीटीएस-आई इंजन लगा है जो 8500 आरपीएम पर 11.8 बीएचपी पॉवर और 6500 आरपीएम पर 11 एनएम का पीक टॉर्क पैदा करता है. कंपनी ने इस इंजन को इस तरह तैयार किया है कि यह तेज रफ़्तार पर भी स्मूद परफॉर्म करने में सक्षम है. इस इंजन के साथ 5-स्पीड गियरबॉक्स जोड़ा गया है. जानकारों का कहना है कि अप्रैल-2020 में बीएस-6 नियमों के लागू होने के बाद सभी बाइकों की कीमतों में इज़ाफा देखने को मिल सकता है. ऐसे में ज्यादा इंजन क्षमता वाली बाइकों की बजाय पल्सर-125 जैसी बाइकों की बिक्री बढ़ने की संभावना नज़र आती है जो ठीक-ठाक कीमत में बढ़िया लुक और संतोषजनक परफॉर्मेंस दे पाएंगी.

मारुति-सुज़ुकी एर्टिगा का एक डीज़ल वेरिएंट बंद

मारुति सुज़ुकी ने अपने मल्टी परपज़ व्हीकल (एमपीवी) एर्टिगा के 1.3-लीटर डीज़ल वेरिएंट का उत्पादन बंद कर दिया है. यानी अब एर्टिगा के सिर्फ़ 1.5-लीटर वेरिएंट के साथ ही डीज़ल इंजन उपलब्ध हो सकेगा. मारुति-सुज़ुकी ने 1.3 लीटर के इंजन को फिएट से लिया था जो कंपनी की छोटी गाड़ियों के साथ बाज़ार में जबरदस्त प्रदर्शन करने में सफल रहा है और 2012 में एर्टिगा के लॉन्च के बाद से ही उसके साथ जोड़ा जाता रहा है.

मारुति-सुज़ुकी एर्टिगा

अपनी डीज़ल कारों को बंद करने से जुड़ी घोषणा मारुति ने सबसे पहले अप्रैल-2019 में की थी. तब कंपनी के चेयरमैन आरसी भार्गव ने कहा था, ‘पहली अप्रैल 2020 से पहले मारुति 1500 सीसी से कम क्षमता वाले डीज़ल इंजन की कारों की बिक्री बंद कर देगी.’ भार्गव के मुताबिक यह फैसला अगले साल लागू होने वाले उत्सर्जन के बीएस-6 मानकों की वजह से लिया गया. साथ ही भार्गव ने इस बात का भी इशारा दिया था कि बीएस-6 नियमों के बाद डीज़ल गाड़ियों की कीमतों और उनके रखरखाव में खासा इज़ाफ़ा देखने को मिलेगा.

फिलहाल बाज़ार में मौजूद एर्टिगा के साथ 1.5 लीटर का के15बी डीओएचसी, वीवीटी पेट्रोल इंजन दिया गया है जो कि 104 बीएचपी की अधिकतम पॉवर के साथ 138 एनएम का टॉर्क उत्पन्न करने में सक्षम है. इस इंजन को 5-स्पीड मैनुअल और 4-स्पीड टॉर्क कन्वर्टर ऑटोमेटिक गियाबॉक्स से लैस किया गया है. वहीं कार के डीज़ल वेरिएंट में लगा 1.5-लीटर क्षमता का इंजन 94 बीएचपी पॉवर और 225 एनएम का पीक टॉर्क पैदा कर सकता है. कंपनी ने इस इंजन को 6-स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स से जोड़ा है. एर्टिगा के बेस वेरिएंट की कीमत 7.55 लाख रुपए (दिल्ली एक्सशोरूम) है जो इसके टॉप एंड वेरिएंट के लिए 11.21 लाख रुपए तक जाती है. अपने सेगमेंट में एर्टिगा सबसे ज्यादा बिक्री वाली कार है.