अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में शनिवार रात को एक शादी समारोह में हुए आत्मघाती बम हमले में 63 लोगों की मौत हो गई. अफगानी गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नसरत रहीमी के मुताबिक, आत्मघाती बम धमाके में 182 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं और मरने वालों में महिलाओं, बच्चों की बड़ी संख्या है.

यह आत्मघाती हमला पश्चिमी काबुल के इलाके में हुआ, जहां अल्पसंख्यक शिया हजारा समुदाय बड़ी संख्या में रहता है. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, पश्चिम काबुल के दुबई वेडिंग सेंटर में धमाका उस समय हुआ जब शादी समारोह में शिरकत करने के लिए एक हजार से ज्यादा लोग वहां मौजूद थे. गुल मोहम्मद नाम के एक प्रत्यक्षदर्शी ने समाचार एजेंसियों को बताया कि विस्फोट उस मंच के पास हुआ, जहां संगीत के लिए इंतजाम किया गया था.

अधिकारियों के मुताबिक, इस साल काबुल में हुआ यह अब तक का सबसे वीभत्स हमला है. तालिबान और इस्लामिक स्टेट दोनों ही काबुल में ऐसे हमले करते रहते हैं. सात अगस्त को इसी इलाके में अफगान सुरक्षा बलों को निशाना बनाते हुए तालिबान ने कार बम विस्फोट किया था, जिसमें 14 लोग मारे गए थे और 145 घायल हो गए थे, जिनमें अधिकांश महिला, बच्चे और अन्य नागरिक थे.