पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने भारत के परमाणु हथियारों को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के रहते दुनिया को भारत के परमाणु हथियारों की सुरक्षा के बारे में विचार करना चाहिए. इमरान खान का यह बयान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की उस टिप्पणी के बाद आया जिसमें उन्होंने संकेत दिया कि भविष्य में भारत अपनी परमाणु शक्ति से जुड़ी नीति में बदलाव कर सकता है.

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक इमरान खान ने कहा, ‘हिंदू प्रभुत्व वाली फासीवादी मोदी सरकार के नियंत्रण में भारत के परमाणु हथियारों की सुरक्षा के बारे में दुनिया को सोचना चाहिए. यह ऐसा मुद्दा है जो केवल इस क्षेत्र को नहीं बल्कि दुनिया को प्रभावित करता है.’ इमरान के इस बयान से पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा था कि आज तक भारत की परमाणु नीति ‘पहले हमला न करने’ की रही है, लेकिन भविष्य में क्या होगा, यह हालात पर निर्भर करेगा.

खबर के मुताबिक रक्षा मंत्री की इसी टिप्पणी पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने रविवार को एक के बाद एक कई ट्वीट किए. एक ट्वीट में उन्होंने कहा, ‘एक हिंदू प्रभुत्व और नेतृत्व वाली फासीवादी सरकार द्वारा भारत पर कब्जा कर लिया गया है, जैसे नाजियों ने जर्मनी पर कब्जा कर लिया था. इसने आईओके (पाकिस्तान के मुताबिक भारत के कब्जे वाले कश्मीर) के 90 लाख मुसलमानों को बीते दो हफ्तों से डरा कर रखा हुआ है. इससे दुनिया को सचेत हो जाना चाहिए था और संयुक्त राष्ट्र के अधिकारियों को वहां भेजना चाहिए था.’