पाकिस्तान ने अपने सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा का कार्यकाल तीन साल के लिए बढ़ाने का फैसला किया है. इस बारे में पाकिस्तान सरकार ने एक नोटिफिकेशन भी जारी किया है. इसके जरिये कहा गया है, ‘कमर जावेद बाजवा का नया कार्यकाल उनके मौजूदा कार्यकाल के खत्म होने के दिन से लागू होगा. यह फैसला क्षेत्रीय सुरक्षा के माहौल के मद्देनजर किया गया है.’

बाजवा का कार्यकाल बढ़ाने का फैसला ऐसे वक्त पर हुआ है जब भारत-पाकिस्तान के रिश्तों में तनाव काफी ज्यादा बढ़ा हुआ है. तनाव की वजह भारत सरकार द्वारा धारा 370 और जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने वाला फैसला है. पाकिस्तान ने जहां इन फैसलों पर आपत्ति जताई है तो भारत ने इसे अपना आंतरिक मामला बताया है. वहीं पाकिस्तान ने चीन की मदद से इस मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भी उठाया था.

वहीं बीते दिनों इस मसले पर बाजवा की तरफ से भी आक्रामक बयान आ चुके हैं. बीते बुधवार उन्होंने कहा था कि कश्मीर की सच्चाई न तो 1947 में कागज के एक अवैध टुकड़े (कश्मीर के भारत विलय) से बदली थी और न हाल के भारत सरकार द्वारा उठाए कदम (धारा 370 के प्रावधान हटाने) से बदल जाएगी. इससे पहले उन्होंने पाकिस्तानी सेना द्वारा कश्मीरियों के ‘न्यायपूर्ण संघर्ष’ में साथ देने की बात कही थी और यह भी कहा था कि पाकिस्तानी सेना अपने कर्तव्य पालन के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है.

कमर जावेद बाजवा को नवाज शरीफ की अगुवाई वाली सरकार के दौरान नवंबर 2016 में सेना प्रमुख का पद सौंपा गया था. 58 वर्षीय बाजवा इसी साल रिटायर होने वाले थे.