कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने आज अपने मंत्रिमंडल का विस्तार कर दिया. इसके तहत 17 मंत्रियों को शपथ दिलवाई गई. इनमें 15 विधानसभा और एक विधान परिषद के सदस्य शामिल हैं. एक सदस्य लक्ष्मण सावडी अनिर्वाचित हैं. बीएस येदियुरप्पा ने दो पूर्व उप मुख्यमंत्रियों आर अशोक और केएस ईश्वरप्पा को अपने मंत्रिमंडल में शामिल किया है. जानकारों के मुताबिक इससे संकेत मिलता है कि उन्होंने पुराने साथियों पर भरोसा जताया है.

बीते महीने कर्नाटक में मची राजनीतिक उथल-पुथल के बाद कांग्रेस-जेडीएस के गठबंधन वाली सरकार में मुख्यमंत्री रहे एचडी कुमारस्वामी ने इस्तीफा दे दिया था. उसके बाद बीएस येदियुरप्पा ने बीती 26 जुलाई को चौथी बार कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी. लेकिन उनके साथ कैबिनेट सदस्य के रूप में किसी और विधायक या नेता ने शपथ नहीं ली थी. येदियुरप्पा अकेले ही सरकार चला रहे थे. इसे लेकर कांग्रेस और जेडीएस लगातार उन पर और भाजपा पर हमलावर थे.

बीएस येदियुरप्पा के नेतृत्व वाले कैबिनेट के विस्तार में हुई देरी को संसद में जरूरी विधेयकों से जुड़ी भाजपा की व्यस्तता और कर्नाटक में आई बाढ़ से जोड़ कर देखा जा रहा है. इसमें और देरी न हो, इसलिए बीते शुक्रवार को येदियुरप्पा ने कहा कि वे इस बारे में भाजपा आलाकमान से दिल्ली जाकर बात करेंगे. आखिरकार सोमवार को उन्हें अपनी कैबिनेट की घोषणा करने की इजाजत मिल गई.