स्ट्राइकर मनदीप सिंह की हैट्रिक की मदद से भारतीय हॉकी टीम ने मेजबान जापान को 6 -3 से हराकर ओलंपिक टेस्ट टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बना ली है. भारत को तीसरे मैच में न्यूजीलैंड ने 2-1 से हराया था. अब फाइनल में बुधवार को भारतीय टीम का सामना न्यूजीलैंड से ही होगा.

मनदीप ने नौवें, 29वें और 30वें मिनट में गोल दागे जबकि नीलकांत शर्मा ने तीसरे, नीलम संजीप सेस ने सातवें और गुरजंत सिंह ने 41वें मिनट में गोल किये. जापान के लिये केंतारो फुकुडा (25वां), केंता तनाका (36वां) और काजुमा मुराता (52वां) ने गोल किये.

नीलकांत शर्मा ने भारत को शानदार शुरूआत दिलाते हुए तीसरे ही मिनट में फील्ड गोल दागा. शुरुआती बढ़त बनाने के बाद आत्मविश्वास से लबरेज भारतीय टीम ने जापानी सुरक्षा पंक्ति पर दबाव बनाये रखा. भारत को सातवें मिनट में मिले पेनल्टी कार्नर को गोल में बदलकर नीलम ने बढ़त दुगुनी कर दी. इसके बाद भी भारत ने लगातार आक्रामक खेल जारी रखा. नौवें मिनट में मनदीप सिंह ने टीम का तीसरा गोल किया. जापान ने पहले क्वार्टर के आखिरी मिनटों में जवाबी हमले में पेनल्टी कार्नर बनाया, लेकिन वह गोल नहीं कर सका.

दूसरे क्वार्टर में जरमनप्रीत सिंह का शॉट पोस्ट के बाहर से निकल गया. वहीं कप्तान हरमनप्रीत सिंह के सटीक शाट को जापानी गोलकीपर तकाशी योशिकावा ने बखूबी बचाया. जापान के लिये पहला गोल 25वें मिनट में फुकुडा ने किया. लेकिन इसके बाद मनदीप सिंह ने लगातार दो गोल करके भारत की बढ़त 5-1 की कर दी.

जापान ने तीसरे क्वार्टर में आक्रामक शुरुआत की. तनाका ने 36वें मिनट में फील्ड गोल किया. लेकिन इसके पांच मिनट बाद ही गुरजंत ने भारत के लिए छठा गोल दाग दिया. जापान के लिये तीसरा गोल मुराता ने हूटर से आठ मिनट पहले किया. आखिरकार मैच 6-3 के स्कोर के साथ भारत की झोली में गया. इस जीत के साथ वह अंकतालिका में दूसरे स्थान पर पहुंच गया है जबकि न्यूजीलैंड इसमें शीर्ष पर है.