पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को दिल्ली हाईकोर्ट ने बड़ा झटका देते हुए मंगलवार को आईएनएक्स मीडिया मामले में उनकी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी है. इस खबर को आज के अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. हाई कोर्ट ने इस मामले को मनी लॉन्डरिंग के बाकी तमाम मामलों जैसा बताते हुए कहा कि इसमें जमानत नहीं दी जा सकती. इससे पहले बीती 25 जनवरी को अदालत ने पी चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित कर लिया था. इसके अलावा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी की गिरफ्तारी को भी अखबारों ने प्रमुखता से छापा है. ईडी ने यह गिरफ्तारी 340 करोड़ रु के कथित बैंक घोटाले के सिलसिले में की है. उधर, कमलनाथ का कहना है कि उनका रतुल पुरी के कारोबार से कोई लेना-देना नहीं है.

हमारी सेना 44 साल पुराने मिग-21 को उड़ा रही है, जबकि अब तो कोई इतनी पुरानी कार भी नहीं चलाता : वायु सेना प्रमुख

वायु सेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बीएस धनोआ ने आधुनिक विमानों की कमी को लेकर बड़ा सवाल खड़ा किया है. हिन्दुस्तान में प्रकाशित खबर के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘हमारी सेना 44 साल पुराने मिग-21 को उड़ा रही है, जबकि अब तो कोई इतनी पुरानी कार भी नहीं चलाता. दुनिया को अपनी ताकत दिखाने के लिए हमें और अधिक आधुनिक लड़ाकू विमानों की जरूरत है.’ वायु सेना प्रमुख ने एक कार्यक्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में कहा, ‘बिना लड़ाकू विमानों के वायु सेना की स्थिति ठीक वैसी ही है, जैसे बिना फोर्स की हवा. इसलिए दुनिया को अपनी हवाई शक्ति दिखाने के लिए हमें और विमानों की जरूरत है.’ पिछले कुछ वर्षों में कई मिग-21 विमान दुर्घटनाग्रस्त हुए हैं. बीते 40 वर्षों में भारत ने 872 मिग विमानों में से आधे से ज्यादा हादसों में गंवा दिए हैं.

निजीकरण के विरोध में देश भर की आयुध फैक्ट्रियों में कामकाज ठप

देश भर की 41 आयुध (ऑर्डिनेंस) फैक्ट्रियों के 80,000 कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने की वजह से इनमें कामकाज ठप हो गया है. राजस्थान पत्रिका की खबर के मुताबिक कर्मचारी संगठनों का कहना है कि सरकार इन फैक्ट्रियों का निजीकरण करना चाहती है. वहीं, संगठनों का कहना है कि इस फैसले से राष्ट्रीय सुरक्षा खतरे में पड़ जाएगी. उन्होंने इस कदम को राष्ट्रविरोधी भी बताया है. बताया जाता है कि डिफेंस प्रोडक्शन विभाग के सचिव और कर्मचारियों के प्रतिनिधिमंडल के बीच इस मसले को लेकर बैठक बुलाई गई थी. लेकिन, यह बेनतीजा रही. वहीं, बुधवार को भी इनके बीच फिर से बैठक होने की बात कही गई है.

राज्य सरकार अपने अधिकारों का इस्तेमाल कर डॉक्टरों को अनिवार्य जन सेवा देने के लिए कह सकती है

सुप्रीम कोर्ट ने साफ किया है कि पोस्ट ग्रेजुएट (पीजी) और सुपर स्पेशलिटी कोर्स में दाखिले के वक्त डॉक्टर जो बांड (अनुबंध) भरते हैं, उन्हें उसका पालन करना होगा. अमर उजाला में छपी खबर के मुताबिक शीर्ष अदालत ने कहा है कि राज्य सरकार अपने अधिकारों का इस्तेमाल कर डॉक्टरों को अनिवार्य जन सेवा देने के लिए कह सकती है. जन सेवा की यह अवधि एक से पांच साल तक हो सकती है. सुप्रीम कोर्ट का आगे कहना है कि डॉक्टर सरकारी अस्पताल में सेवा देने को बंधुआ मजदूरी नहीं कह सकते, खासकर जब तब उन्हें इसकी जानकारी पहले से हो. बताया जाता है कि जन सेवा से संबंधित अनुबंध का उल्लंघन करने पर 10 से 50 लाख रुपये तक का जुर्माना लगाने का भी प्रावधान है.

कर्नाटक : आईएमए चिटफंड घोटाले की जांच सीबीआई को दी गई

कर्नाटक सरकार ने मंगलवार को अरबों रुपये के आईएमए चिटफंड घोटाले की जांच सीबीआई को सौंप दी. दैनिक जागरण के मुताबिक इस मामले में कई नेता और सरकारी अधिकारी भी आरोपितों में शामिल हैं. विशेष जांच दल (एसआईटी) प्रमुख एस गिरीश ने कहा कि यह मामला सीबीआई को इसलिए सौंपा जा रहा है कि आरोपितों और पीड़ितों में राज्य के बाहर के लोग भी शामिल हैं. इससे पहले इस मामले की जांच एसआईटी कर रही थी. बताया जाता है कि आइ मोनेटरी एडवाइजर (आईएमए) नामक कंपनी पर भारी मुनाफे का लालच देकर हजारों निवेशकों के साथ धोखाधड़ी करने का आरोप है. इस मामले में अब तक कंपनी के एमडी मोहम्मद मंसूर खान सहित कई सरकारी अधिकारियों को भी गिरफ्तार किया गया है. निवेशकों की तरफ से शिकायतें दर्ज कराए जाने के बाद मुख्य आरोपित मंसूर खान दुबई भाग गया था.

‘सेक्रेड गेम्स-2’ पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप

अकाली दल के नेता और दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिरसा ने वेब सीरिज ‘सेक्रेड गेम्स-2’ पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया है. नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक मनजिंदर सिरसा ने कहा, ‘सेक्रेड गेम्स में सैफ अली खान ने अपना कड़ा समुद्र में फेंका. यह धर्म का अपमान है. सिख धर्म में पांच ककार जिनमें कड़ा भी शामिल है, धर्म की मर्यादा से जुड़े हैं. इनका अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.’ उन्होंने आगे कहा, ‘मुझे आश्चर्य है कि बॉलीवुड हमारे धार्मिक प्रतीकों का निरादर क्यों करता है.’ सिरसा ने इस बारे में पुलिस में शिकायत भी दर्ज कराई है. उन्होंने इस दृश्य को हटाने की भी मांग की है.