1-भाजपा के वरिष्ठ नेता अरुण जेटली का लंबी बीमारी के बाद कल निधन हो गया. द प्रिंट हिंदी पर छपे इस लेख में शंकर अर्निमेष बता रहे हैं कि जेटली का जाना एक ऐसे बहुमुखी व्यक्तित्व का जाना है जिससे आज के राजनेता कुछ अहम सबक ले सकते हैं.

राजनीति का किस्सागो, आफ रिकार्ड ब्रीफ़िंग करने वाला बीजेपी का आलराउंडर राजनेता चला गया

2-जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म होने के बाद से राज्य में कई तरह की पाबंदियां जारी हैं. सरकार का कहना है कि हालात धीरे-धीरे सामान्य होने की तरफ लौट रहे हैं. दूसरी तरफ कई खबरें इसके उलट संकेत दे रही हैं. इस सबके बीच वहां रहने के अनुभव को लेकर वायर हिंदी पर अफशां अंजुम का लेख

370 का जश्न और सहमा हुआ कश्मीर

3-इतिहास में कई चर्चित सेक्स स्केंडल हुए हैं. 19वीं सदी के दौरान हैदराबाद का एक सेक्स स्केंडल पूरी दुनिया में चर्चित हुआ था. यह अप्रैल 1892 की बात है. इस मामले की शुरुआत हुई थी आठ पन्नों के एक पर्चे से. बीबीसी पर बेन्यामिन कोहेन का लेख.

भारत का सेक्स स्कैंडल जिसने हिला दी थी दुनिया

4-आम धारणा है कि अफ्रीकी लोगों को गुलाम बनाकर बेचने वाले पश्चिमी देशों के लोग थे. लेकिन यह भी सच है कि अरब देशों के मुस्लिमों ने पूर्वी अफ्रीका के लाखों लोगों को गुलाम बनाया था. यह बात अलग है कि इसकी ज्यादा चर्चा नहीं होती. डॉयचे वेले हिंदी पर सिल्या फ्रोहलिष का लेख.

कैसे भुला दी गई अफ्रीकी लोगों की गुलामी की दास्तां

5-आजकल वाट्सएप और फेसबुक पर एक संदेश खूब वायरल हो रहा है. इसमें कहा जा रहा है कि P-500 लिखा हुआ पैरासिटामोल न लें क्योंकि इसमें एक खतरनाक वायरस पाया गया है. एक फेसबुक पेज से तो ये ढाई लाख से भी ज्यादा बार शेयर हुआ है. इस संदेश की पोल खोलता ऑल्टन्यूज का लेख

नहीं, पैरासिटामोल टैबलेट P-500 में माचूपो वायरस नहीं है