प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज स्वदेश लौटते ही भाजपा नेता दिवंगत अरुण जेटली के घर पहुंचे. उनके साथ गृह मंत्री अमित शाह भी थे. वहां उन्होंने पूर्व वित्त मंत्री के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्ति की. बीते शनिवार को दिल्ली स्थित एम्स अस्पताल में अरुण जेटली का निधन हो गया था. उस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन देशों की यात्रा पर थे. उन्होंने जब अरुण जेटली के परिवार को फोन किया तो सदस्यों ने उनसे यात्रा बीच में नहीं छोड़ने का अनुरोध किया था. इस कारण प्रधानमंत्री मोदी वरिष्ठ भाजपा नेता के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाए थे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जब अरुण जेटली के निधन की खबर मिली, तब वे बहरीन में थे. वहां एक कार्यक्रम में बोलते हुए वे भावुक हो गए थे. उन्होंने कहा कि वे कल्पना नहीं कर पा रहे कि उनके मित्र अरुण नहीं रहे और वे ऐसे में इतनी दूर हैं. भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा था, ‘मैं कर्तव्य से बंधा हूं. ऐसे समय में जब बहरीन में जोश का माहौल है और भारत में जन्माष्टमी का जश्न मनाया जा रहा है, मेरे दिल में गहरा दुख है. एक ऐसा मित्र जिसके साथ सार्वजनिक जीवन में साथ चला, साथ राजनीति यात्रा शुरू की, जिनसे मैं हमेशा जुड़ा रहा, जिनके साथ संघर्ष किए, सपने देखे और उन सपनों को पूरा किया, वह मित्र अरुण जेटली आज नहीं रहे.’