दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) ने फिरोजशाह कोटला स्टेडियम (फिरोजशाह कोटला मैदान) का नाम अपने पूर्व अध्यक्ष अरुण जेटली के नाम पर रखने का फैसला किया है. इस स्टेडियम का नया नामकरण आगामी 12 सितंबर को दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में आयोजित होने वाले एक कार्यक्रम में किया जाएगा. खबरों के मुताबिक उस कार्यक्रम में गृहमंत्री अमित शाह और खेल मंत्री किरण रिजिजू भी शिरकत करेंगे. इसके साथ ही पूर्व में हुई एक अन्य घोषणा के अनुसार उसी कार्यक्रम में इस स्टेडियम के एक स्टैंड का नाम भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली के नाम पर भी रखा जाएगा.

इधर, फिरोजशाह कोटला स्टेडियम का नाम बदलने की पहल को लेकर डीडीसीए के अध्यक्ष रजत शर्मा ने कहा है, ‘अरुण जेटली ने खिलाड़ियों को सहयोग और प्रोत्साहन दिया. यह उसी का नतीजा है कि वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, आशीष नेहरा, विराट कोहली, ऋषभ पंत, जैसे कई अन्य खिलाड़ियों को भारत का मान बढ़ाने में कामयाबी मिली.’ उन्होंने आगे कहा, ‘जिसने इस स्टेडियम का नवीनीकरण करवाया अगर उसी के नाम पर इसका नाम रखा जाता है तो इससे बेहतर और क्या होगा.’

क्रिकेट के ​उभरते खिलाड़ियों को आगे बढ़ाने के अलावा अरुण जेटली की फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में दर्शकों की क्षमता बढ़वाने और इसे आधुनिक सुविधाओं से संपन्न कराने में भी अहम भूमिका रही थी. इसके अलावा इस स्टेडियम में विश्वस्तरीय ड्रेसिंग रूम निर्माण कराने का श्रेय भी उन्हीं को दिया जाता है. अरुण जेटली ने यह काम डीडीसीए के अध्यक्ष पद पर रहते हुए करवाए थे. बीते शनिवार लंबी बीमारी के बाद अरुण जेटली का निधन हो गया था.