सीबीआई ने लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला से तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के तीन सांसदों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किए जाने की अनुमति मांगी है. उसने नरादा स्टिंग ऑपरेशन मामले में टीएमसी सांसद सौगत राय, काकोली घोष दस्तिदार और प्रसून बनर्जी पर मामला चलाए जाने को लेकर ओम बिड़ला से यह अपील की है. इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक सीबीआई सूत्रों ने कहा कि इन तीनों सांसदों समेत मामले के दस आरोपितों को समन जारी किया गया है. उन्होंने कहा कि पूछताछ के दौरान इनके वॉइस सैंपल भी लिए जाएंगे.

अखबार ने केंद्रीय जांच एजेंसी के सूत्रों के हवाले से बताया कि लोकसभा अध्यक्ष की ओर से मंजूरी मिलने के बाद तीनों सांसदों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की जाएगी. एक अधिकारी ने कहा, ‘एक पूर्व सांसद के खिलाफ मंजूरी लेना जरूरी था जो स्टिंग ऑपरेशन के समय भी सांसद थे और अभी भी सांसद हैं.’

नरादा केस टीएमसी के कुछ नेताओं के एक स्टिंग ऑपरेशन से जुड़ा है. इसमें वे कथित रूप से एक व्यक्ति से पैसे लेते दिखाई दिए थे. यह स्टिंग ऑपरेशन 2014 का है जिसे 2016 के पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव से ठीक पहले नरादा न्यूज डॉट कॉम नामक वेबसाइट पर दिखाया गया था. बाद में अप्रैल 2017 में सीबीआई ने टीएमसी नेताओं के खिलाफ केस दर्ज किया. इनमें बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी शामिल थीं.