करीब दो महीने पहले संन्यास का ऐलान करने वाले भारत के पूर्व बल्लेबाज अंबाती रायडू खेल के मैदान पर लौटना चाहते हैं. पीटीआई के मुताबिक उन्होंने हैदराबाद के लिए खेल के तीनों प्रारूपों में खेलने की इच्छा व्यक्त की है. अंबाती रायडू ने क्रिकेट विश्व कप के लिए अपनी अनदेखी किये जाने के बाद संन्यास की घोषणा की थी.

बताया जा रहा है कि अंबाती रायडू ने अब बीसीसीआई के रत्नाकर शेट्टी को एक चिट्ठी लिखकर फिर हैदराबाद की ओर से खेलने की इच्छा जताई है. रत्नाकर शेट्टी हैदराबाद क्रिकेट संघ (एचसीए) की प्रशासकों की समिति के सदस्य भी हैं. उनके मुताबिक अंबाती रायडू ने कहा है कि वे खेल के सभी प्रारूपों के लिए उपलब्ध हैं. उनका यह भी कहना था कि उन्होंने संन्यास का फैसला जल्दबाजी में लिया था. 33 साल के इस क्रिकेटर ने चेन्नई सुपर किंग्स, भारत के महान बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण और हैदराबाद चयन समिति के प्रमुख नोएल डेविड का शुक्रिया अदा किया है.

बीसीसीआई के अनुभवी प्रशासक रत्नाकर शेट्टी ने कहा, ‘जब उन्होंने संन्यास लेने का फैसला किया था तो मैं हैरान हो गया था क्योंकि मुझे लगा था कि यह जल्दबाजी में लिया गया फैसला है. ये अच्छा है कि वीवीएस लक्ष्मण जैसे सीनियर खिलाड़ियों से बात करके उसे अपनी गलती का अहसास हो गया और उसने संन्यास से वापसी करने का फैसला किया.’

अंबाती रायडू ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 50 मैच खेले हैं और 47.05 के औसत से 1694 रन बनाए हैं जिनमें तीन शतक और 10 अर्धशतक शामिल हैं. उनका स्ट्राइक रेट 79 के करीब रहा है. उन्होंने पांच अंतरराष्ट्रीय टी20 मैच खेले हैं और 10.50 के औसत से कुल 42 रन बनाए हैं.