ऑटोमोबाइल सेक्टर से आ रही बुरी खबरों का सिलसिला जारी है. पीटीआई के मुताबिक देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने कहा है कि वह हरियाणा में गुरुग्राम और मानेसर के अपने दोनों कारखानों में सात और नौ सितंबर को काम बंद रखेगी. एक बयान में उसका कहना है, ‘इन दोनों तारीखों को उत्पादन शून्य दिवस मनाया जाएगा.’

भारतीय ऑटोमोबाइल क्षेत्र इन दिनों दो दशक की सबसे बड़ी मंदी का सामना कर रहा है. इसके चलते कई कंपनियों को अपना उत्पादन घटाना पड़ रहा है. बीते दिनों खबरें आई थीं कि इस मंदी ने अप्रैल से अब तक साढ़े तीन लाख से भी ज्यादा रोजगार छीन लिए हैं.

बाजार में नरमी के कारण मारुति ने बीते महीने यानी अगस्त में उत्पादन 33.99 प्रतिशत घटा दिया था. यह लगातार सातवां महीना है जब कंपनी ने ऐसा किया. अगस्त में मारुति सुजुकी इंडिया का उत्पादन 1,11,370 इकाई रहा. पिछले साल इसी माह यह संख्या 1,68,725 इकाई थी.

भारत दुनिया का चौथा सबसे बड़ा ऑटोमोबाइल बाजार है. देश की जीडीपी में इस सेक्टर का योगदान साढ़े सात फीसदी के आसपास है. साढ़े तीन करोड़ से भी ज्यादा लोगों का रोजगार इससे जुड़ा है. यही वजह है कि आर्थिक जानकार इसकी सुस्ती को लेकर आगाह कर रहे हैं. उधर, इस क्षेत्र में सक्रिय कंपनियों की मांग है कि सरकार सुस्ती की समस्या से निपटने के लिए कुछ प्रोत्साहन उपायों का ऐलान करे.