मुंबई से जयपुर जा रही एक उड़ान के यात्रियों ने विमानन कंपनी इंडिगो पर आरोप लगाया है कि कंपनी की लापरवाही के चलते उन्हें पूरी रात हवाई अड्डे पर एक खड़े जहाज में गुजारनी पड़ी. इन आरोपों के बाद डीजीसीए (नागर विमानन महानिदेशालय) ने पूरे मामले की जांच कराने का फैसला किया है. डीजीसीए के एक शीर्ष आधिकारिक सूत्र ने यह जानकारी दी है.

भारी बारिश के कारण बुधवार रात मुंबई हवाई अड्डे से जाने वाली कई उड़ानें प्रभावित हुईं थीं. यात्रियों का आरोप है कि इंडिगो की जयपुर जाने वाली बुधवार शाम की एक फ्लाइट गुरुवार सुबह रवाना हुई, लेकिन यात्रियों को आधी रात को ही विमान में बैठा दिया गया और पूरी रात उन्हें खड़े विमान में गुजारनी पड़ी. इस फ्लाइट के एक यात्री ने पीटीआई को बताया, ‘मेरी इंडिगो की उड़ान बुधवार शाम 07.55 बजे जयपुर के लिये रवाना होने वाली थी. लेकिन, विमान ने गुरुवार सुबह छह बजे उड़ान भरी और मैं सुबह आठ बजे के करीब जयपुर पहुंचा. मैं आधी रात में विमान में सवार हुआ और सुबह उड़ान भरने तक विमान में ही बैठा रहा. हमें रात में खाना भी नहीं दिया गया. यात्रियों ने इससे नाराज होकर हंगामा किया. किसी ने सीआईएसएफ को भी इस बारे में सूचित किया.’

इस तरह के वाकये के सामने आने के बाद डीजीसीए ने इन आरोपों की जांच कराने का फैसला लिया है. इंडिगो की ओर से इस मामले में अब तक कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया नहीं आई है.