पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को कहा कि राज्य की तृणमूल कांग्रेस सरकार प्रदेश में एनआरसी लागू करने की अनुमति नहीं देगी. ममता बनर्जी ने कहा कि एनआरसी के जरिये केंद्र की भाजपा सरकार जरुरी मुद्दों से ध्यान हटाना चाहती है.

पश्चिम बंगाल विधानसभा में नियम 185 के तहत एनआरसी पर एक प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान ममता बनर्जी ने कहा, ‘हम लोग भाजपा को एनआरसी पश्चिम बंगाल में नहीं लागू करने देंगे.’ ममता बनर्जी ने आगे कहा कि एनआरसी का कार्यान्वयन और कुछ नहीं बल्कि भाजपा की केंद्र सरकार का राजनीतिक प्रतिशोध है. उन्होंने कहा, ‘एनआरसी कुछ नहीं है बल्कि देश में जारी आर्थिक संकट से लोगों का ध्यान भटकाने का प्रयास है.’

असम देश का एकमात्र ऐसा राज्य है जहां एनआरसी को लागू किया गया है. अभी हाल ही में वहां एनआरसी की अंतिम सूची का प्रकाशन 31 अगस्त को किया गया है. तृणमूल कांग्रेस ने असम में एनआरसी लागू होने के बाद आरोप लगाया था कि इसके बहाने असम की भाजपा सरकार वहां से बंगाल के लोगों को बाहर करना चाहती है.