समाजवादी पार्टी ने कहा है कि आजम खां पर हो रहे ‘सरकारी अन्याय’ के खिलाफ पार्टी पहले से ही आंदोलन कर रही है, ऐसे में पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव के आह्वान पर कोई नई मुहिम चलाने की योजना फिलहाल नहीं है. मुलायम सिंह यादव ने कुछ दिन पहले सपा कार्यकर्ताओं से अपील की थी कि आजम खां के खिलाफ हो रहे ‘सरकारी दमन’ के खिलाफ उन्हें आंदोलन चलाना चाहिए.

क्या मुलायम सिंह यादव के आह्वान पर पार्टी आजम खां के समर्थन में किसी आंदोलन की तैयारी कर रही है? इस सवाल के जवाब में सपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने कहा, ‘हमारा आंदोलन तो पहले से ही चल रहा है. पिछली नौ अगस्त को इस मामले पर हर जिले में प्रदर्शन हो चुका है और पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव राज्यपाल से मिलकर आजम खां पर हो रही कार्रवाई का विरोध भी जता चुके हैं.’ क्या सपा मुलायम के आह्वान पर आंदोलन को और तेज नहीं करेगी? इस पर राजेंद्र चौधरी ने दोहराया कि हमारा आंदोलन चल रहा है और सपा अध्यक्ष अखिलेश आगामी नौ सितम्बर रामपुर जाकर आजम और उनके परिजनों से मुलाकात करेंगे. अभी कुछ नया करने की बात नहीं है.

सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने तीन सितंबर को प्रेस कांफ्रेंस में कार्यकर्ताओं से रामपुर से पार्टी सांसद आजम खां पर हो रहे ‘सरकारी अन्याय’ के खिलाफ आंदोलन खड़ा करने की अपील की थी. मुलायम ने कहा था, ‘हम उत्तर प्रदेश के सभी पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील करते हैं कि आजम खां के अपमान और अन्याय के खिलाफ तैयार हो जाएं और पूरे प्रदेश में आंदोलन खड़ा करें. हम खुद उस आंदोलन में आगे खड़े होंगे.’ उन्होंने यह भी कहा था कि वह सपा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्यों और अन्य नेताओं से बात करके एक-दो दिन में आंदोलन की तारीख घोषित करेंगे.