1-मद्रास हाई कोर्ट की मुख्य न्यायाधीश विजया के ताहिलरमानी का इस्तीफा इस सप्ताह चर्चा का विषय बना रहा. सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम ने उन्हें मेघालय हाई कोर्ट ट्रांसफर करने और वहां के मुख्य न्यायाधीश को मद्रास हाई कोर्ट का मुख्य न्यायाधीश बनाने का फैसला किया था. विजया ताहिलरमानी ने कोलेजियम से इस पर पुनर्विचार का अनुरोध किया था, लेकिन जब इससे इनकार कर दिया गया तो उन्होंने पद छोड़ दिया. इस घटनाक्रम को लेकर द प्रिंट पर देबायन रॉय की रिपोर्ट.

क्या जस्टिस ताहिलरमानी को दो जजों की नियुक्ति रोकने का खामियाज़ा भुगतना पड़ा

2-भारत के महत्वाकांक्षी अंतरिक्ष मिशन चंद्रयान-2 को आखिरी चरण में लगे झटके पर चर्चा जारी है. शनिवार तड़के इसके लैंडर विक्रम का तब अचानक कंट्रोल रूम से संपर्क टूट गया था जब वह चांद की तरह से महज दो किलोमीटर दूर था. बीबीसी की यह रिपोर्ट बताती है कि क्यों इस अधूरे मिशन में भी बड़ी कामयाबी छिपी है.

चंद्रयान-2: चाँद की अधूरी यात्रा में भी क्यों है भारत की एक बड़ी जीत

3-बांग्लादेश में ‘शत्रु संपत्ति अधिनियम’ वहां रहने वाले अल्पसंख्यकों खासकर हिंदुओं के लिए किसी मुसीबत से कम नहीं. कई मानते हैं कि यह बांग्लादेशी हिंदुओं को उनकी जमीन-जायदाद से बेदखल करने का जरिया है. द वायर हिंदी पर अभिषेक रंजन सिंह की रिपोर्ट.

बांग्लादेश में ‘वेस्टेड प्रॉपर्टी एक्ट’ के शिकार हिंदू अल्पसंख्यक

4-चीन में गधों के चमड़े की बढ़ती मांग ने अफ्रीकी देश केन्या में लाखों लोगों को परेशान कर रखा है. डॉयचे वैले हिंदी पर छपी यह रिपोर्ट बताती है कि कैसे वहां गधों की चोरी से अपनी आजीविका गंवा चुके बहुत से परिवार अब अपराधी नेटवर्कों के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं.

गधों को चीन के काले बाजार से बचाने के लिए गैंग बना रहे हैं लोग

5-चर्चित टीवी पत्रकार रवीश कुमार से जुड़ा एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. इसमें 2013 और कुछ दिन पहले की उनकी दो क्लिप्स की तुलना दिखाई गई है और कहा जा रहा है कि पांच फीसदी विकास दर पर उनके विचार सरकार के साथ बदल गए हैं. ऑल्ट न्यूज की यह खबर इसकी पोल खोलती है.

रवीश कुमार के 2013 के शो का क्लिप किया हुआ वीडियो भ्रामक रूप से प्रसारित, पत्रकारों ने भी किया साझा