अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने तालिबान के साथ चल रही शांति वार्ता रोक दी है. उन्होंने कहा है कि तालिबान और अफगानिस्तान के नेताओं के साथ रविवार को ‘कैम्प डेविड’ में होने वाली गोपनीय बैठक रद्द कर दी है. डोनाल्ड ट्रंप ने काबुल में पिछले सप्ताह हुई बमबारी के मद्देनजर यह कदम उठाया है.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर यह जानकारी दी है. उन्होंने लिखा, ‘लगभग सभी को बिना बताए, प्रमुख तालिबान नेताओं और अफगानिस्तान के राष्ट्रपति के साथ रविवार को ‘कैम्प डेविड’ में अलग-अलग गोपनीय बैठक करनी थी.....दुर्भाग्य से (बैठक में) अपनी स्थिति को मजबूत करने के लिए उन्होंने (तालिबान ने) गुरूवार को काबुल में किए हमले की जिम्मेदारी ली, जिसमें हमारे बेहतरीन सैनिकों में से एक की जान चली गई थी और अन्य 11 लोग घायल हो गए.’

अमेरिकी राष्ट्रपति ने आगे लिखा, ‘अपनी स्थिति को मजबूत करने के लिए इतने सारे लोगों की हत्या करने वाले लोग कैसे होंगे?....उन्होंने स्थिति को केवल बदतर ही बनाया है. मैंने तत्काल इस बैठक को रद्द कर दिया है और शांति वार्ता रोक दी है.’

अमेरिकी राजनयिक जलमय खलीलजाद अभी तक तालिबान के साथ नौ दौर की वार्ता कर चुके हैं. लेकिन डोनाल्ड ट्रंप की इस घोषणा के बाद साल भर से जारी इस वार्ता पर विराम लगता दिखाई दे रहा है. बीते महीने यह वार्ता एक समझौते पर भी पहुंच गयी थी जिसकी घोषणा जल्द होने वाली थी.