चंद्रयान-2 के ऑरबिटर ने विक्रम को खोज निकाला है. इसके ऑरबिटर ने चंद्रमा की सतह पर मौजूद इस लैंडर की तस्वीरें लेने में कामयाबी हासिल की है. हालांकि अभी तक इससे संपर्क नहीं हो पाया है. विक्रम का शनिवार को अपनी लैंडिंग के दौरान कंट्रोल रूम से संपर्क टूट गया था. इस खबर को आज के सभी अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. इसके अलावा मशहूर वकील राम जेठमलानी के निधन और डोनाल्ड ट्रंप द्वारा तालिबान से शांति वार्ता रोकने की खबर भी ज्यादातर अखबारों की बड़ी सुर्खियों में शामिल है.

कश्मीर में मोहर्रम से पहले प्रतिबंध फिर कड़े किए गए

कश्मीर घाटी में मोहर्रम को देखते हुए प्रतिबंध फिर से कड़े कर दिए गए हैं. द टाइम्स ऑफ इंडिया के अधिकांश सड़कें बंद कर दी गई है. श्रीनगर में लाल चौक और इसके आसपास के इलाकों को भी सील कर दिया गया है. अधिकारियों के मुताबिक मोहर्रम के दौरान होने वाली भीड़ की आड़ में हिंसा हो सकती है. बीते पांच अगस्त को केंद्र ने जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म कर दिया था. इसके बाद से राज्य में सामान्य जनजीवन अस्त-व्यस्त है. उधर, सरकार का कहना है कि हालात सामान्य होने की तरफ बढ़ रहे हैं.

पाकिस्तान ने मसूद अजहर को जेल से रिहा किया

पाकिस्तान ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर को चुपचाप जेल से रिहा कर दिया है. हिंदुस्तान टाइम्स ने सूत्रों के हवाले से यह खबर दी है. बताया जा रहा है कि मसूद अजहर भारत के खिलाफ किसी आतंकी हमले की योजना बना रहा है. एक अधिकारी का यह भी कहना है कि जम्मू-कश्मीर पर सरकार के विशेष ध्यान को देखते हुए पाकिस्तान किसी और जगह को निशाना बना सकता है. वहां की सेना ने राजस्थान से लगती सीमा पर अतिरिक्त बलों की तैनाती भी की है.

लद्दाख को आदिवासी क्षेत्र का दर्जा?

जम्मू-कश्मीर से अलग होकर केंद्र शासित प्रदेश बनाए गए लद्दाख को आदिवासी क्षेत्र का दर्जा दिया जा सकता है. द ट्रिब्यून के मुताबिक राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने केंद्र से इसकी सिफारिश की है. इस पर 11 सितंबर को फैसला होगा. लद्दाख की 98 फीसदी आबादी अनुसूचित जनजाति में आती है. इलाके के लोग अपनी पहचान और संस्कृति को बचाने के लिए काफी समय से विशेष दर्जे की मांग करते रहे हैं.

बियांका ने सेरेना का सपना तोड़ा, 19 साल की उम्र में अमेरिकी ओपन चैंपियन

बियांका एंड्रेस्कू ने शनिवार को अमेरिकी दिग्गज सेरेना विलियम्स को हराकर साल के चौथे ग्रैंड स्लैम अमेरिकी ओपन का महिला एकल खिताब जीत लिया. दैनिक जागरण के मुताबिक महज 19 साल की इस खिलाड़ी ने आक्रामक खेल दिखाते हुए सेरेना को सीधे सेटों में 6-3, 7-5 से हराया. बियांका ने न सिर्फ अपना पहला ग्रैंड स्लैम जीता बल्कि सेरेना को अपना रिकार्ड 24वां ग्रैंड स्लैम जीतने से भी रोक दिया. वे ग्रैंड स्लैम जीतने वाली पहली कनाडाई खिलाड़ी हैं.