आईएनएक्स मीडिया मामले में गिरफ्तार पी चिदंबरम ने कहा है कि उनसे जुड़े मामले में किसी भी अधिकारी की गिरफ्तारी नहीं होनी चाहिए क्योंकि किसी ने कुछ गलत नहीं किया है. पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम की ओर से उनके परिवार ने उनके आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर यह टिप्पणी पोस्ट की है. इसमें कहा गया है, ‘लोगों ने मुझसे पूछा है कि “यदि वो दर्जनों भर अधिकारी जिन्होंने मामले को आप तक पहुँचाया और सिफारिश की, गिरफ्तार नहीं किए गए तो आपको क्यों गिरफ्तार किया गया? सिर्फ इसलिए की आपने अंतिम हस्ताक्षर किया?”

पी चिदंबरम को सीबीआई ने बीते महीने गिरफ्तार किया था. फिलहाल वे 19 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में हैं. उन्हें दिल्ली की तिहाड़ जेल में रखा गया है. अधिकारियों के अनुसार उन्हें एक अलग कोठरी और पश्चिमी शैली के एक शौचालय के अलावा कोई विशेष सुविधा नहीं मिलेगी. अन्य कैदियों की तरह वे जेल के पुस्तकालय का उपयोग कर सकेंगे और एक निश्चित अवधि तक वे टीवी देख सकते हैं. आवश्यक मेडिकल जांच के बाद चिदंबरम को जेल नंबर सात में रखा गया है. उनके बेटे कार्ति को भी पिछले साल इसी मामले में इसी कोठरी में 12 दिनों तक रखा गया था.

पी चिदंबरम पर आरोप है कि 2006 में उन्होंने आईएनएक्स मीडिया समूह में विदेशी निवेश की मंजूरी देने में अनियमितताएं बरतीं. हालांकि वे इससे इनकार करते रहे हैं. इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने भी मनी लॉन्डरिंग का एक केस दर्ज किया है.