राजस्थान के पूर्व राज्यपाल और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके कल्याण सिंह सोमवार को एक बार फिर भाजपा में शामिल हो गए हैं. उन्होंने हाल ही में राजस्थान के राज्यपाल के तौर पर अपना कार्यकाल पूरा किया है.

87 वर्षीय कल्याण सिंह ने उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की मौजूदगी में एक बार फिर पार्टी की सदस्यता ग्रहण की. इस दौरान उनके बेटे एवं एटा से सांसद राजवीर सिंह और प्रदेश के वित्त राज्यमंत्री और उनके पौत्र संदीप सिंह भी मौजूद थे. कल्याण सिंह ने करीब पांच साल पहले राजस्थान का राज्यपाल बनने के बाद भाजपा की सदस्यता से त्यागपत्र दे दिया था.

पांच साल राजस्थान का राज्यपाल रहने के बाद उनका कार्यकाल पिछले तीन सितंबर को पूरा हुआ था. कल्याण सिंह भारतीय जनता पार्टी के राम मंदिर आंदोलन का प्रमुख चेहरा रहे हैं. उनकी पार्टी में वापसी को एक बार फिर पार्टी की राम मंदिर मुद्दे को धार देने की कोशिश के तौर पर भी देखा जा रहा है.