पाकिस्तान में इमरान खान की कैबिनेट के एक मंत्री का बयान सरकार के लिए किरकरी की वजह बन गया है. इस मंत्री का कहना है कि भारत द्वारा जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म किए जाने के बाद पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय बिरादरी से खास समर्थन नहीं मिल रहा. पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्री ब्रिगेडियर एजाज अहमद शाह ने यह बात एक टीवी साक्षात्कार के दौरान कही. उन्होंने कहा, ‘हम कहते हैं इन्होंने कर्फ्यू लगाया. हम कहते हैं ये दवाइयां नहीं दे रहे. लोगों को मार रहे हैं. खाने के लिए कुछ नहीं दे रहे. हमें लोग बिलीव नहीं कर रहे, उनको कर रहे हैं.’ उनका यह भी कहना था कि पाकिस्तान के सत्ताधारी एलीट क्लास ने देश की छवि बर्बाद कर दी है.

पाकिस्तान लगातार जम्मू-कश्मीर पर भारत के हालिया फैसले का मुद्दा अंतरराष्ट्रीय मंचों पर उठाने की कोशिश कर रहा है. लेकिन हर जगह उसे निराशा ही हाथ लगी है. कल संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने भी कहा कि वे इसमें दखल नहीं देंगे और यह मसला भारत-पाकिस्तान को बातचीत से हल करना चाहिए.