लद्दाख में भारत और चीन के सैनिकों के बीच टकराव खत्म

भारत और चीन की सेना के बीच लद्दाख में चल रहा टकराव खत्म हो गया है. ऐसा दोनों पक्षों के एक प्रतिनिधिमंडल की आपसी बातचीत के बाद हुआ. ये टकराव पैंगांग झील में हुआ था. पर्यटकों के बीच मशहूर इस झील का दो तिहाई हिस्सा चीन में है और बाकी भारत में. बताया जाता है कि जब भारतीय सेना की एक टीम झील में गश्त कर रही थी तो चीनी सैनिकों ने उसे रोक लिया और उसकी मौजूदगी पर आपत्ति की. भारतीय सेना ने इसका विरोध किया और कहा कि वो अपने इलाके में है. दोनों ओर से तनातनी बढ़ने के बाद पीछे संदेश भेजकर अतिरिक्त सैनिकों को बुला लिया गया. तनातनी की यह स्थिति बुधवार पूरे दिन रही. यह पहली बार नहीं है जब पैंगांग झील में दोनों देशों के सैनिक आपस में भिड़े हों. अगस्त 2017 में भी ऐसी ही एक घटना हुई थी. तब भी बातचीत के बाद मसला सुलझा लिया गया था.

सोनिया गांधी का मोदी सरकार पर तीखा हमला, कहा - जनादेश का सबसे खतरनाक तरीके से दुरुपयोग हो रहा है

कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला है. उन्होंने आरोप लगाया है कि भाजपा उसे मिले जनादेश का सबसे खतरनाक तरीके से गलत इस्तेमाल कर रही है. सोनिया गांधी ने आज कांग्रेस के शीर्ष नेताओं के साथ एक बैठक की. इसमें पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी शामिल हुए. बैठक में देश के आर्थिक हालात पर चिंता जताई गई. इसके अलावा पार्टी ने कहा कि भाजपा उसके धैर्य की परीक्षा ले रही है. कांग्रेस ने मोदी सरकार की असफलताओं को जनता के बीच ले जाने के लिए एक व्यापक अभियान की बात भी कही. कुछ समय पहले एक बार फिर कांग्रेस की कमान संभालने के बाद से सोनिया गांधी की पार्टी नेताओं के साथ ये पहली बैठक है. हालांकि इसमें उनके बेटे और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने हिस्सा नहीं लिया.

उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी कांग्रेस पर इशारों-इशारों में हमला किया है. झारखंड की राजधानी रांची में एक कार्यक्रम में आज उन्होंने कहा कि कुछ भ्रष्टाचारी अपनी जगह पहुंच चुके हैं और कुछ जमानत के लिए अदालतों के चक्कर लगा रहे हैं. माना जा रहा है कि उनका इशारा मुकदमों का सामना कर रहे पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम और गांधी परिवार की तरफ था.

पी चिदंबरम की जमानत याचिका पर दिल्ली हाई कोर्ट ने सीबीआई से जवाब मांगा

दिल्ली हाई कोर्ट ने आईएनएक्स मामले में पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की जमानत याचिका पर सीबीआई से जवाब मांगा है. जांच एजेंसी को जवाब दाखिल करने के लिए 23 सितंबर का वक्त दिया गया है. अपनी याचिका में पी चिदंबरम ने कहा है कि उनके खिलाफ जांच एजेंसियों की कार्रवाई राजनीतिक बदले की भावना से प्रेरित है. उन्होंने खुद को कानून का पालन करने वाला नागरिक बताया और कहा कि उनके भागने का कोई सवाल नहीं उठता. पी चिदंबरम फिलहाल दिल्ली की तिहाड़ जेल में हैं. उनकी न्यायिक हिरासत 19 सितंबर को खत्म होगी. पी चिदंबरम ने हाई कोर्ट से ये अपील भी की थी कि उन्हें जेल में घर में बना खाना खाने की अनुमति दी जाए. लेकिन अदालत ने इसे नामंजूर कर दिया.

जमीयत का अहम बयान, कहा - कश्मीर के लोगों का हित भारत के साथ एकीकरण में है

मुसलमानों की शीर्ष संस्था जमीयत उलेमा-ए-हिंद ने कहा है कि कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है. उसका ये भी कहना है कि घाटी में रहने वाले लोगों की बेहतरी भारत के साथ एकीकरण में है. जमीयत ने आज अपनी सालाना बैठक में एक प्रस्ताव पारित कर यह बात कही. इसमें पाकिस्तान पर हमला बोलते हुए कहा गया कि पड़ोसी मुल्क कश्मीर को तबाह करने पर तुला हुआ है. जमीयत के मुताबिक वह कभी किसी अलगाववादी गतिविधि का समर्थन नहीं कर सकता. अपने प्रस्ताव में उसका कहना था कि इस तरह की गतिविधियां न केवल भारत बल्कि कश्मीर की जनता के लिए भी हानिकारक हैं.

भारतीय छात्रों के लिए अच्छी खबर, ब्रिटेन ने अपनी वीजा नीति बदली

ब्रिटेन में पढ़ रहे या वहां जाने की योजना बना रहे भारतीय छात्रों के लिए एक अच्छी खबर है. इस देश ने अपनी वीजा नीति में बदलाव किया है. इसके तहत दूसरे देशों के छात्र अब पढ़ाई पूरी करने के बाद यहां दो साल तक रुककर नौकरी ढूंढ सकेंगे. ब्रिटेन के गृह मंत्रालय के नए प्रस्तावों में इसका ऐलान किया गया है. 2012 में तत्कालीन गृह मंत्री टेरीज़ा मे के एक फैसले के बाद विदेशी छात्रों को अपनी डिग्री पूरी करने के चार महीने बाद ही ब्रिटेन छोड़ना होता था. लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि कानून में इस बदलाव से छात्रों को अपनी क्षमताओं को टलोलने और ब्रिटेन में अपना करियर शुरू करने का मौका मिलेगा. नया क़ानून उन सभी विदेशी छात्रों पर लागू होगा जो ब्रिटेन में अगले साल से ग्रेजुएशन या उससे आगे की पढ़ाई शुरू करेंगे.