पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने गुरुवार को कहा कि भाजपा एनआरसी के नाम पर आग से न खेले. तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने भाजपा नेताओं को यह भी चुनौती दी कि वह एनआरसी के नाम पर पश्चिम बंगाल के एक भी नागरिक को छू कर दिखाए.

असम में एनआरसी लाये जाने के विरोध में कोलकाता में निकाली गई रैली में ममता ने कहा, ‘हम बंगाल में एनआरसी को कभी इजाजत नहीं देंगे. हम उन्हें धार्मिक एवं जातिगत आधार पर लोगों को बांटने की इजाजत नहीं देंगे.’ उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि पुलिस प्रशासन का इस्तेमाल कर असम के लोगों को चुप कराया गया है, लेकिन वे बंगाल को चुप नहीं करा सकते.

दूसरी तरफ, भाजपा ने आरोप लगाया है कि ममता बनर्जी एनआरसी के नाम पर राजनीति कर घुसपैठियों का समर्थन कर रही हैं. पश्चिम बंगाल के भाजपा प्रमुख दिलीप घोष ने ममता सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी सरकार एनआरसी का विरोध कर एक करोड़ से अधिक बांग्लादेशी मुसलमानों, रोहिंग्या को बचा रही है.