उत्तर प्रदेश पुलिस ने एक छात्रा के यौन शोषण के मामले में भाजपा नेता चिन्मयानंद से पूछताछ की है. बताया जाता है कि यह पूछताछ कल शाम करीब छह बजे शुरू हुई और रात एक बजे तक चली. पीड़िता ने आरोप लगाया है कि चिन्मयानंद ने एक वीडियो के जरिये एक साल तक उसे ब्लैकमेल करते हुए उसका यौन शोषण किया. 73 साल के चिन्मयानंद ने इस आरोप से इनकार किया है. उनका कहना है कि उल्टे छात्रा उन्हें पैसे के लिए ब्लैकमेल कर रही थी.

छात्रा ने आरोप करीब एक महीने पहले लगाए थे. उसने मामले की जांच कर रही उत्तर प्रदेश पुलिस की विशेष जांच टीम को अपने आरोपों के समर्थन में एक पेन ड्राइव भी सौंपी है. इसके बावजूद अभी तक बलात्कार का मामला दर्ज न करने के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस की काफी आलोचना हो रही है. उधर, चिन्मयानंद के वकील का कहना है कि उनके मुवक्किल जांच में पूरा सहयोग कर रहे हैं.

यह मामला बीते महीने पहली बार चर्चा में आया था जब पीड़िता ने फेसबुक पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से न्याय की गुहार लगाई थी. उसने हालांकि चिन्मयानंद का नाम नहीं लिया था. इसके बाद 24 अगस्त को वह लापता हो गई और फिर उसे राजस्थान से बरामद किया गया. इसके बाद छात्रा के पिता ने चिन्मयानंद का नाम लिया था.