दिल्ली में ‘ऑड-ईवन’ की वापसी, इस बार योजना चार से 15 नवंबर तक चलेगी

दिल्ली में प्रदूषण से निपटने की कोशिशों के तहत ऑड-ईवन की वापसी होने जा रही है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज ये ऐलान किया. उन्होंने कहा कि ये योजना चार से 15 नवंबर तक चलेगी. अरविंद केजरीवाल के मुताबिक उनकी सरकार ने फसलों के अवशेष जलाए जाने से हर साल होने वाले प्रदूषण से निपटने के लिए सात सूत्रीय कार्य योजना बनाई है. इसमें मास्कों का वितरण, सड़कों पर झाड़ू लगाने वाली मशीनें और वृक्षारोपण जैसी कवायदें शामिल हैं. इसके अलावा मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली सरकार इलेक्ट्रिक बसें भी खरीदेगी.

दिल्ली में पहली बार ऑड-ईवन का प्रयोग 2016 में किया गया था. दुनिया की सबसे प्रदूषित राजधानियों में इस शहर का पहला नंबर है. हालांकि अरविंद केजरीवाल का कहना है कि दिल्ली दुनिया का अकेला शहर है जहां प्रदूषण कम हो रहा है. उनके मुताबिक हाल के कुछ समय के दौरान दिल्ली के प्रदूषण में 25 फीसदी कमी आई है.

आधार को सोशल मीडिया प्रोफाइल से लिंक करने पर सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र से जवाब मांगा

आधार को सोशल मीडिया प्रोफाइल से लिंक करने संबंधी मामले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से जवाब मांगा है. शीर्ष अदालत ने पूछा है कि क्या सोशल मीडिया अकाउंट्स को रेग्युलेट करने के लिए उन्हें आधार से जोड़ने की सरकार की कोई योजना है. केंद्र को जवाब देने के लिए 24 सितंबर तक का समय दिया गया है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस मामले में जल्द फैसला लिए जाने की जरूरत है. यह पूरा मामला तब शुरू हुआ जब तमिलनाडु सरकार ने सोशल मीडिया प्रोफाइल को आधार से लिंक कराने संबंधी पहल की. उसका तर्क है कि ऐसा होने से सोशल मीडिया राष्ट्रविरोधी तत्वों के अलावा और फेक न्यूज और आपत्तिजनक कंटेंट पोस्ट करने वालों की पहचान संभव हो पाएगी. इस पर फेसबुक को एतराज है. उसका कहना है कि आधार को सोशल मीडिया अकाउंट से लिंक करने पर यूजर्स की प्राइवेसी खत्म हो जाएगी.

यौन शोषण मामले में चिन्मयानंद की मुश्किलें बढ़ीं, पुलिस ने सात घंटे तक पूछताछ की

एक छात्रा के यौन शोषण के मामले में भाजपा नेता चिन्मयानंद की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं. सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर गठित एसआईटी ने उनसे कल रात सात घंटे तक पूछताछ की. एसआईटी ने उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर स्थित उनका आश्रम भी सील कर दिया है. पीड़िता ने आरोप लगाया है कि चिन्मयानंद ने एक वीडियो के जरिये एक साल तक उसे ब्लैकमेल करते हुए उसका यौन शोषण किया. उसका ये भी कहना है कि अब पुलिस और प्रशासन उस पर दबाव बना रहे हैं. उसने अपने परिवारवालों की जान को खतरा भी बताया है. उधर, 73 साल के चिन्मयानंद ने इन आरोपों से इनकार किया है. उनका कहना है कि उल्टे छात्रा उन्हें पैसे के लिए ब्लैकमेल कर रही थी. उन्होंने जांच में पूरा सहयोग करने की बात भी कही है.

सरकार ने 312 विदेशी सिख नागरिकों के नाम काली सूची से हटाए

भारत-विरोधी गतिविधियों में शामिल रहे 312 विदेशी सिखों के नाम काली सूची से हटा दिए गए हैं. गृह मंत्रालय ने आज ये जानकारी दी. अब इस सूची में सिर्फ दो नाम बचे हैं. सूची से जिन लोगों के नाम हटाए गए हैं, वे अब भारत में अपने परिवारों से मिलने आ सकते हैं. 1980 के दशक में जब पंजाब में उग्रवाद चरम पर था तो ये लोग भारत विरोधी प्रचार में लगे थे. इनमें से कुछ लोग पहले से विदेश में थे तो कुछ गिरफ्तारियों के डर से वहां भाग गए थे. 2016 में इन्हें काली सूची में डाला गया था. यानी इन्हें भारत का वीजा मिलना नामुमकिन हो गया था. लेकिन अब ऐसा नहीं होगा. गृह मंत्रालय ने सभी दूतावासों और उच्चायोगों को ताजा फैसले की जानकारी दे दी है.

बेंजामिन नेतन्याहू ने अमेरिकी राष्ट्रपति कार्यालय की जासूसी से इनकार किया

इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने इन खबरों को सिरे से खारिज किया है कि उनके देश ने व्हाइट हाउस के आसपास जासूसी की. इन दिनों रूस की यात्रा पर गए इजराइली प्रधानमंत्री ने कहा कि ये आरोप बिल्कुल झूठ है. ऑनलाइन न्यूज आउटलेट पोलिटिको ने अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से ये खबर दी थी. उसके मुताबिक इन अधिकारियों का मानना है कि व्हाइट हाउस के आसपास कॉल्स और संदेशों का गुपचुप तरीके से पता लगाने के लिए की गई जासूसी के पीछे इजराइल का हाथ है. इससे हंगामा खड़ा हो गया था. उधर, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी कहा है कि उन्हें इजराइल पर भरोसा है. अमेरिका के इतिहास में अपने आप को सबसे अधिक इजराइल समर्थक राष्ट्रपति बताने वाले डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि इजराइली उनकी जासूसी कर रहे हैं, इस पर यकीन करना मुश्किल है.