विरोध के सुर उठने के बाद सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी एमएमटीसी अब पाकिस्तान से प्याज नहीं मंगाएगी. पीटीआई के मुताबिक कंपनी ने 2,000 टन प्याज का आयात करने की अपनी निविदा में सुधार करते हुये यह निर्देश दिया है.

पिछले सप्ताह एमएमटीसी ने एक निविदा जारी करते हुये पाकिस्तान, मिस्र, चीन, अफगानिस्तान और अन्य क्षेत्रों से प्याज आयात करने की घोषणा की थी. इस पर कुछ दलों और किसानों की ओर से विरोध के स्वर उठने लगे थे. एमएमटीसी ने इसके बाद अपनी निविदा में सुधार करते हुये कहा कि बोली लगाने वाली कंपनियां पाकिस्तान को छोड़कर किसी भी अन्य क्षेत्र अथवा देश से प्याज मंगा सकती हैं.

जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370 को निष्प्रभावी कर दिये जाने के बाद से भारत और पाकिस्तान के रिश्ते तनावपूर्ण बने हुए हैं. पाकिस्तान ने इसके चलते भारत के साथ अपने व्यापारिक रिश्तों को निलंबित कर दिया है. साल 2018-19 में दोनों देशों के बीच 2.56 अरब डॉलर (करीब 18,000 करोड़ रुपये) का व्यापार हुआ था. भारत, पाकिस्तान को मुख्य तौर पर कपास और रसायन निर्यात करता है. उधर, पाकिस्तान से भारत को जिन चीजों का सबसे ज्यादा निर्यात होता है उनमें फल, सीमेंट और सेंधा नमक शामिल हैं.