बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स सोमवार को करीब 262 अंक टूटकर बंद हुआ. सऊदी अरब के सबसे बड़े तेल संयंत्र पर ड्रोन हमले के बाद कच्चे तेल के दाम में आई तेजी को बाजार में गिरावट की सबसे बड़ी वजह माना जा रहा है.

सोमवार को तीस शेयरों वाला सेंसेक्स शुरूआती कारोबार में 356 अंक टूट गया था, लेकिन बाद में इमसें कुछ सुधार हुआ. अंत में सेंसेक्स 261.68 अंक यानी 0.70 प्रतिशत की गिरावट के साथ 37,123.31 अंक पर बंद हुआ. नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 79.80 अंक यानी 0.72 प्रतिशत की गिरावट के साथ 10,996.10 अंक पर बंद हुआ. विशेषज्ञों के अनुसार वैश्विक बाजार में कच्चे तेल के दाम में उछाल के बाद शेयर बाजारों में गिरावट आयी. सऊदी अरब के दो तेल संयंत्रों पर ड्रोन से हमले के बाद कच्चे तेल के दाम में तेजी आयी है. इस हमले से सऊदी अरब के उत्पादन पर व्यापक असर पड़ा है. इससे 57 लाख बैरल प्रतिदिन की कटौती होगी जो कि कुल विश्व आपूर्ति का 5 प्रतिशत तक है. ब्रेंट क्रूड का भाव सोमवार को 19.5 प्रतिशत उछलकर 71.95 डालर प्रति बैरल पर पहुंच गया.

तेल के दाम में तेजी के साथ अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर में भारी गिरावट से भी निवेशकों की धारणा पर असर पड़ा. डॉलर के मुकाबले रुपया कारोबार के दौरान 61 पैसे टूटकर 71.53 पर पहुंच गया.