ऐसा मानने की कई वजहें हो सकती हैं कि हर भारतीय की पहली ख्वाहिश ढेर सारा पैसा कमाना होती है. वहीं, यह मानने के लिए तो किसी वजह की दरकार नहीं होनी चाहिए कि तमाम भारतीयों की दूसरी बड़ी ख्वाहिश बढ़िया सेक्स से जुड़ती है. ट्रेलर बताता है कि ‘मेड इन चाइना’ का विषय यही दो ख्वाहिशें होने वाली हैं. इसकी झलकियां दिखाती हैं कि फिल्म का नायक ‘आंत्रप्रेन्योर’ बनने की चाह रखने वाला एक ऐसा व्यक्ति है जो लोगों की सेक्स से जुड़ी समस्याएं हल करने की बात कहता है और इसके जरिए पैसे कमाता है.

‘मेड इन चाइना’ के ट्रेलर में इसके संवाद सबसे ज्यादा ध्यान खींचते हैं. एक तरफ जहां ‘कस्टमर चू*** है’ जैसे सीधे और तीखे संवाद इसका हिस्सा हैं. वहीं, दूसरी तरफ ‘बल्ब जल जाता है... पर आग नहीं लगती’ जैसे दोमानी संवादों के साथ इसमें मनोरंजन रचने की कोशिश की गई दिखती है. हालांकि फिल्म में ये कितनी मात्रा में और किस तरह से इस्तेमाल किए गए हैं, यह देखने वाली बात होगी क्योंकि वहां पर इनका संतुलन ही मनोरंजन की गुणवत्ता तय करने वाला बनने वाला है. फिलहाल, इन झलकियों में ये मनोरंजक लगने के साथ-साथ उत्सुकता जगाने का काम भली तरह से कर जाते हैं.

अभिनय पर आएं तो एक महत्वाकांक्षी गुजराती व्यवसायी की भूमिका में राजकुमार राव न सिर्फ अपने रंग-रूप से बल्कि अपने एक्सप्रेशंस और बॉडी लैंग्वेज से भी भरोसेमंद लग रहे हैं. इस बार उनके साथ अच्छा यह है कि गुजराती टोन में बोलने के चलते उनकी संवाद अदायगी में भी थोड़ा बदलाव दिखाई दे रहा है, जो उनके आलोचकों को चुप कराने वाला साबित हो सकता है. झलकियों में राव के साथ नज़र आ रहीं मौनी रॉय फिल्म में सेक्सी दिखने के अलावा क्या करेंगी, इसका अंदाजा ट्रेलर नहीं दे पाता. बाकी, कुछ दृश्यों में परेश रावल, बोमन ईरानी और गजराज राव भी नज़र आते हैं और इनके होने को फिल्म में बढ़िया अभिनय की गारंटी माना जा सकता है.

‘मेड इन चाइना’ से गुजराती फिल्म निर्देशक मिखिल मुसले हिंदी में डेब्यू कर रहे हैं. कई फिल्मों में बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर काम करने वाले मुसले ने साल 2016 में गुजराती फिल्म ‘रॉन्ग साइड राजू’ से बतौर निर्देशक अपना करियर शुरू किया था. उनकी पहली ही फिल्म को न सिर्फ दर्शकों-समीक्षकों से सराहना मिली थी बल्कि राष्ट्रीय पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था. फिलहाल, गुजराती रंग रूप वाली उनकी पहली हिंदी फिल्म ‘मेड इन चाइना’ भी मनोरंजन की गारंटी देती तो लग रही है, लेकिन यह भरपूर साबित होगा या नहीं इसका पता इस साल दीवाली के धमाकों के बीच चलेगा.

Play