एक छात्रा के यौन शोषण के आरोपों से घिरे भाजपा नेता चिन्मयानंद को गिरफ्तार कर लिया गया है. एसआईटी की एक टीम ने उन्हें उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर स्थित उनके आश्रम से गिरफ्तार किया. इसके बाद चिन्मयानंद को अदालत में पेश किया गया जिसने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

कानून की पढ़ाई कर रही इस छात्रा ने 24 अगस्त को एक वीडियो वायरल करके चिन्मयानंद पर कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद करने का आरोप लगाया था. उसका यह भी दावा था कि उसे और उसके परिवार को जान का खतरा है. इसके बाद वह लापता हो गई थी. इस मामले में चिन्मयानंद के खिलाफ अपहरण का मुकदमा दर्ज कराया गया था. बाद में राजस्थान में बरामद की गई छात्रा ने चिन्मयानंद पर बलात्कार का आरोप भी लगाया था. उसका यह भी कहना था कि प्रशासन उस पर दबाव बना रहा है और पुलिस रिपोर्ट दर्ज करने में टालमटोल कर रही है. हालांकि पुलिस ने इससे इनकार किया था.

सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर गठित एसआईटी इस मामले की जांच कर रही है. बीते सोमवार को पीड़ित छात्रा का कलमबंद बयान दर्ज करवाया गया था. उसके बाद से ही पीड़िता चिन्मयानंद के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज करने और उनकी गिरफ्तारी की मांग कर रही थी. उसने चेतावनी भी दी थी कि चिन्मयानंद की गिरफ्तारी न होने की सूरत में वह आत्मदाह कर लेगी.