आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत आगामी मंगलवार को एक सर्वे जारी करेंगे, जिसमें विवाहित और लिव इन में रहने वाली महिलाओं की तुलना की गई है. इस सर्वे में दावा किया गया है कि विवाहित महिलाएं लिव-इन-रिलेशनशिप में रहने वाली महिलाओं के मुकाबले ज्यादा खुश रहती हैं.

आरएसएस सूत्रों के मुताबिक, इस सर्वेक्षण का निष्कर्ष अगले मंगलवार को विदेशी मीडिया के साथ मोहन भागवत की बातचीत के बाद जारी किया जाएगा. यह सर्वेक्षण पुणे की संस्था ‘दृष्टि स्त्री अध्ययन प्रबोधन केंद्र’ ने की है. यह संस्था आरएसएस से जुड़ी है. सर्वेक्षण के निष्कर्ष पर राजस्थान के पुष्कर में आयोजित आरएसएस की अखिल भारतीय समन्वय बैठक में भी चर्चा हुई थी. इस सर्वेक्षण के मुताबिक विवाहित महिलाओं में खुशी का स्तर बहुत ज्यादा है, जबकि लिव-इन-रिलेशनशिप में रहने वाली महिलाओं में खुशी का स्तर सबसे कम है.

आरएसएस के प्रचार प्रभारी अरुण कुमार ने बताया कि भागवत अंतरराष्ट्रीय मीडिया को आरएसएस, उसके विचारों और उसके कामकाज के बारे में बताएंगे. आरएसएस की कार्यप्रणाली में यह अपने तरह का पहला कार्यक्रम है.