पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर यानी एनआरसी को लेकर भाजपा पर निशाना साधा है. पीटीआई के मुताबिक उन्होंने कहा है कि राज्य में यह कवायद नहीं होगी. ममता बनर्जी का कहना था, ‘मुझ पर भरोसा रखिए, पश्चिम बंगाल में एनआरसी को कभी मंजूरी नहीं मिलेगी.’ कुछ दिन पहले रांची में एक कार्यक्रम के दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने कहा था कि पूरे भारत में एनआरसी लाया जाएगा और अवैध प्रवासियों को देश से बाहर कर दिया जाएगा. उनका कहना था कि सरकार इसे लेकर प्रतिबद्ध है.

तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ने कुछ दिन पहले इस मुद्दे पर अमित शाह से मुलाकात की थी. उनका कहना था कि असम में जो 19 लाख लोग एनआरसी की आखिरी सूची से बाहर हो गए हैं उनमें से कई भारतीय हैं. ममता बनर्जी का कहना था कि ऐसे लोगों में एक बड़ी तादाद बांग्ला और हिंदीभाषियों की भी है. उन्होंने गृह मंत्री से इन मामलों की छानबीन कराने का अनुरोध भी किया था. आज ममता बनर्जी ने कहा, ‘एनआरसी के मामले में भय पैदा करने को लेकर भाजपा पर धिक्कार है, इसके कारण पश्चिम बंगाल में छह लोगों की जान चली गई.’