कर्नाटक के 15 विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव के लिए राजनीतिक दलों की तैयारियां चल रही हैं. लेकिन, इसी बीच राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री और जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी ने कहा है कि 24 अक्टूबर को उपचुनाव के नतीजों के बाद राज्य में फिर राजनीतिक नाटक शुरु होगा. उनके इस बयान के बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि क्या उपचुनाव के बाद कर्नाटक में एक बार फिर राजनीतिक अस्थिरता का दौर शुरु होगा.

जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी ने कहा कि विधानसभा उपचुनावों में उनकी पार्टी अकेले लड़ेगी और सभी निर्वाचन क्षेत्रों में उम्मीदवार उतारे जाएंगे. मैसुरू में संवाददाताओं से बात करते हुए कुमारस्वामी ने कहा कि पार्टी का लक्ष्य अधिकतम सीटें जीतने, संगठन को मजबूत करने और लोगों का विश्वास जीतने का है. उन्होंने कहा कि यह चुनाव सभी राजनीतिक दलों के के साथ-साथ सरकार के लिए भी इम्तिहान की तरह है. कुमारस्वामी ने यह भी कहा कि 24 अक्टूबर के परिणाम के बाद हम सब राज्य में नयी राजनीतिक नौटंकी देखेंगे.

जेडीएस ने कांग्रेस के साथ गठबंधन कर सरकार चलायी थी और लोकसभा चुनाव भी साथ मिलकर लड़ा था, लेकिन इस उपचुनाव में अकेले उतरने का फैसला किया है. कांग्रेस-जेडीएस के अयोग्य करार दिए गए 17 विधायकों में से 15 के निर्वाचन क्षेत्र में 21 अक्टूबर को उपचुनाव होगा और 24 अक्टूबर को परिणाम की घोषणा की जाएगी. इन 15 निर्वाचन क्षेत्रों में कांग्रेस के 12 और जेडीएस के तीन विधायक थे.