ईडी के मामला दर्ज करने के बाद शरद पवार ने जांच में सहयोग की बात कही, भाजपा पर भी निशाना साधा

एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने महाराष्ट्र सहकारी बैंक घोटाले के आरोपों को लेकर प्रतिक्रिया दी है. आज उन्होंने कहा कि वे इस सिलसिले में ईडी द्वारा दर्ज मामले की जांच में पूरा सहयोग करेंगे. शरद पवार ने ये भी कहा कि वे 27 सितंबर को खुद ईडी के दफ्तर में जाएंगे. इस दौरान उन्होंने केंद्र में सत्ताधारी भाजपा पर निशाना भी साधा. शरद पवार ने कहा कि वे छत्रपति शिवाजी की विचारधारा को मानने वाले हैं और वे दिल्ली तख्त के आगे नहीं झुकेंगे. ईडी ने शरद पवार सहित 70 अन्य लोगों के खिलाफ मनी लॉन्डरिंग का मामला दर्ज किया है. करीब 25 हजार करोड़ के इस घोटाले में उनके भतीजे और महाराष्ट्र के पूर्व उपमुख्यमंत्री अजित पवार का नाम भी है. उधर, शरद पवार के खिलाफ मामला दर्ज होने के बाद भड़के एनसीपी कार्यकताओं ने आज मुंबई में ईडी कार्यालय के बाहर विरोध प्रदर्शन किया.

चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा को रंगदारी के आरोप में गिरफ्तार किया गया

पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली छात्रा को आज रंगदारी मांगने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया. सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर गठित एसआईटी का कहना है कि यह कार्रवाई पर्याप्त सबूतों के बाद की गई है. एसआईटी प्रमुख नवीन अरोड़ा ने बताया कि इस आरोप के समर्थन में ठोस सबूत हैं कि चिन्मयानंद से पांच करोड़ रुपये की मांग की गयी थी. पूर्व केंद्रीय मंत्री का आरोप है कि छात्रा उन्हें ब्लैकमेल कर रही थी. चिन्मयानंद फिलहाल 14 दिन की न्यायिक हिरासत में हैं. उधर, अदालत ने छात्रा को भी सात अक्टूबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. कानून की पढ़ाई कर रही इस छात्रा ने 24 अगस्त को एक वीडियो जारी करके चिन्मयानंद पर कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद करने का आरोप लगाया था.

उधर, भाजपा ने तीन बार के सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद से पल्ला झाड़ लिया है. पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के प्रवक्ता हरीश श्रीवास्तव ने कहा कि चिन्मयानंद पार्टी के सदस्य नहीं हैं और उनके खिलाफ कानून अपना काम करेगा.

एनआरसी पर अरविंद केजरीवाल ने कहा - दिल्ली में ये कवायद हुई तो सबसे पहले मनोज तिवारी को वापस जाना होगा

राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर यानी एनआरसी को लेकर अब भाजपा और दिल्ली में सत्ताधारी आप के बीच जुबानी जंग शुरू हो गई है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि राज्य में एनआरसी लागू होने के बाद भाजपा के दिल्ली अध्यक्ष मनोज तिवारी को वापस जाना होगा. इस पर मनोज तिवारी ने भी पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि अगर मुख्यमंत्री दूसरे राज्य के लोगों को विदेशी मान रहे हैं तो उनका मानसिक संतुलन ठीक नहीं है. मनोज तिवारी कई बार असम की तरह राजधानी में भी एनआरसी लागू करने की मांग कर चुके हैं. उनके मुताबिक राजधानी में बहुत से घुसपैठिए हैं, जिन्हें बाहर किया जाना चाहिए. इस सिलसिले में वे कुछ समय पहले गृहमंत्री अमित शाह से भी मिले थे.

पीवी सिंधु पहले ही दौर में कोरिया ओपन से बाहर

विश्व चैंपियन पीवी सिंधु आज पहले ही दौर में मिली हार के बाद कोरिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट से बाहर हो गईं. अमेरिकी खिलाड़ी बिएवेन झांग के खिलाफ 56 मिनट तक चले मैच में उन्हें 7-21 24-22 15-21 से हार का मुंह देखना पड़ा. ओलंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधु की ताल विश्व चैंपियनशिप में मिले स्वर्ण पदक के बाद से टूटती दिख रही है. इस आयोजन के बाद वे चीन ओपन के दूसरे ही दौर में बाहर हो गई थीं. उधर, भारत के ही बी साई प्रणीत भी आज पुरुष एकल के शुरूआती मुकाबले में रिटायर्ड हर्ट हो गये. विश्व चैंपियनशिप के कांस्य पदक विजेता साई प्रणीत ने पांचवें वरीयता प्राप्त डेनमार्क के एंडर्स एंटोनसेन के खिलाफ चोट के कारण हटने का फैसला किया. तब वे 9-21 7-11 से पिछड़ रहे थे.

डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की प्रक्रिया शुरू

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की आधिकारिक प्रक्रिया शुरू हो गई है. वहां के निचले सदन ‘हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव्स’ की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ने इसका ऐलान किया. उन्होंने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप ने अपने डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंदी जो बाइडन को नुकसान पहुंचाने के लिए विदेशी ताकतों का इस्तेमाल किया. डेमोक्रेट और पूर्व उप राष्ट्रपति जो बाइडन 2020 में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप को टक्कर दे सकते हैं. आरोप है कि डोनाल्ड ट्रंप ने यूक्रेन के राष्ट्रपति व्लोदीमीर ज़ेलेंस्की पर दबाव बनाया कि जो बाइडन और उनके बेटे के ख़िलाफ़ भ्रष्टाचार के दावों की जांच शुरू करें. डोनाल्ड ट्रंप ने इससे इनकार किया है. हालांकि उन्होंने ये माना है कि उन्होंने अपने जो बाइडन के बारे में यूक्रेन के राष्ट्रपति से चर्चा की थी. अमेरिका में अब तक किसी भी राष्ट्रपति को महाभियोग के ज़रिए नहीं हटाया गया है.