अमेरिका चाहता है कि भारत कश्मीर में तेजी से प्रतिबंधों में छूट दे. पीटीआई के मुताबिक अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत और पाकिस्तान के शीर्ष नेताओं से मुलाकात के बाद एक शीर्ष अधिकारी ने यह बात कही. अमेरिका के विदेश मंत्रालय में दक्षिण एशियाई मामलों की अधिकारी एलिस वेल्स ने कहा, ‘हम तेजी से कदम उठाए जाने की उम्मीद करते हैं. प्रतिबंध समाप्त किए जाएं और हिरासत में लिए गए लोगों को रिहा किया जाए.’

उनका यह भी कहना था कि अमेरिका जम्मू-कश्मीर में नेताओं और कारोबारियों को हिरासत में लिए जाने और आम लोगों पर प्रतिबंध लगाए जाने से चिंतित है. एलिस वेल्स ने कहा कि अगर दोनों पक्ष डोनाल्ड ट्रंप से मध्यस्थता करने को कहते हैं तो वे इसके इच्छुक हैं. हालांकि उन्होंने इस बात का भी उल्लेख किया कि भारत किसी भी तरह की मध्यस्थता की पेशकश को खारिज करता आया है.

22 सितंबर को ह्यूस्टन में आयोजित ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम में डोनाल्ड ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ शिरकत की थी और 50,000 से अधिक भारतीय-अमेरिकियों को संबोधित किया था. इस दौरान दोनों नेताओं ने एक-दूसरे की तारीफ की थी. इसके बाद बीते मंगलवार को भी डोनाल्ड ट्रंप और नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर मुलाकात की थी.