भारत ने संयुक्त राष्ट्र में चीन के जम्मू-कश्मीर का उल्लेख करने पर कड़ी आपत्ति जताई

संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करने के दौरान चीन के विदेशमंत्री वांग यि द्वारा जम्मू-कश्मीर और लद्दाख का उल्लेख करने पर भारत ने कड़ी आपत्ति जताई है. भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने शनिवार को कहा, ‘चीन को अच्छी तरह से भारत के रुख की जानकारी है कि जम्मू-कश्मीर और लद्दाख भारत का अभिन्न अंग है और हाल में क्षेत्र को लेकर घटित घटनाक्रम पूरी तरह से देश का आंतरिक मामला है.’ (विस्तार से)

जम्मू-कश्मीर : मुठभेड़ में तीन आतंकी मार गिराए गए

जम्मू-कश्मीर के रामबन इलाके में चल रही मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने तीन आतंकी मार गिराए हैं. एक स्थानीय नागरिक को उन्होंने एक मकान के भीतर घुसकर बंधक बना लिया था जिसे छुड़ा लिया गया है. आतंकवादियों ने आज सुबह रामबन जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग पर सेना के एक दल पर हमला किया था. जवाबी कार्रवाई के बाद वे भाग गए थे. इसके बाद सुरक्षा बलों ने व्यापक खोज अभियान चलाया. अधिकारियों ने बताया कि इसी दौरान सुरक्षा बलों ने एक मकान के भीतर छिपे आतंकवादियों को घेर लिया. ( विस्तार सेे)

जम्मू-कश्मीर: सुप्रीम कोर्ट एक अक्टूबर से अनुच्छेद 370 को हटाने संबंधी याचिकाओं पर सुनवाई करेगा

सुप्रीम कोर्ट ने जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 के ज्यादातर प्रावधानों को खत्म करने के केंद्र सरकार के फैसले को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुनवाई के लिए शनिवार को पांच न्यायधीशों की संवैधानिक पीठ का गठन किया. पीठ की अध्यक्षता न्यायमूर्ति एनवी रमण करेंगे और इन याचिकाओं पर सुनवाई एक अक्टूबर से शुरू होगी. (विस्तार से)

एक शिवसैनिक को महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाने का वादा पूरा करूंगा : उद्धव ठाकरे

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिये सीटों के बंटवारे को लेकर हो रही देरी के बीच शिव सेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने एक बड़ा बयान दिया है. आज उन्होंने कहा कि वे एक शिवसैनिक को महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री बनाने का अपने पिता और शिवसेना के पूर्व प्रमुख दिवंगत बाल ठाकरे से किया वादा पूरा करेंगे. हालांकि, उद्धव ठाकरे ने यह भी कहा कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के साथ बातचीत सही दिशा में आगे बढ़ रही है और अंतिम निर्णय की घोषणा जल्द ही की जाएगी. (विस्तार से)

डोनाल्ड ट्रंप और व्लादिमीर पुतिन की बातचीत सार्वजनिक न की जाए : रूस

रूस ने अमेरिका से कहा है कि डोनाल्ड ट्रंप के साथ उनके रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन की फोन पर हुई बातचीत को सार्वजनिक न किया जाए. पीटीआई के मुताबिक डोनाल्ड ट्रंप और यूक्रेन के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति व्लादिमीर जेलेंस्की के बीच हुई बातचीत उजागर होने के बाद खड़े हुए विवाद के मद्देनजर रूस ने अमेरिका से यह आग्रह किया है. (विस्तार से)