भारतीय स्पिनर रविंद्र जडेजा ने अपने 44वें टेस्ट मैच में एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है. वे दुनिया में सबसे तेजी से 200 टेस्ट विकेट पूरे करने वाले ‘बाएं हाथ’ के गेंदबाज बन गए हैं. उन्होंने शुक्रवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट के तीसरे दिन यह आंकड़ा छुआ. जडेजा ने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज डीन एल्गर (160 रन) को पहली पारी के दौरान आउट करके 200वां विकेट लिया.

अब तक यह उपलब्धि श्रीलंका के ‘बाएं हाथ’ के पूर्व स्पिनर रंगना हेराथ के नाम थी. हेराथ ने 1999 में अपने 47वें टेस्ट मैच में यह कारनामा किया था. इस मामले में तीसरे स्थान पर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज मिचेल जॉनसन हैं, जिन्होंने 49 मैचों में ऐसा किया था. उनके बाद ऑस्ट्रेलिया के ही ‘बाएं हाथ’ के तेज गेंदबाज मिचेल स्टॉर्क आते हैं जिन्होंने 50 मैचों में 200 विकेट झटके थे.

रविंद्र जडेजा इसके अलावा सबसे तेजी से 200 विकेट लेने वाले दूसरे भारतीय गेंदबाज भी बन गए हैं. उनसे आगे भारतीय स्पिनर आर अश्विन हैं, जिन्होंने 37 मैचों में 200 विकेट हासिल किये थे. भारत के पूर्व स्पिनर हरभजन सिंह ने 46 और अनिल कुंबले ने 47 मैचों में 200 विकेट लिये थे. जडेजा टेस्ट मैचों में 200 विकेट लेने वाले दसवें भारतीय गेंदबाज हैं.