भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने एनआरसी मुद्दे पर अरविंद केजरीवाल द्वारा दिए गए एक बयान को लेकर उन पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि एएनआरसी बहुत जरूरी है क्योंकि कोई भी देश अपने यहां घुसपैठियों को नहीं रहने देना चाहेगा.

पिछले महीने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था कि अगर दिल्ली में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) लागू होता है तो भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष मनोज तिवारी को सबसे पहले राष्ट्रीय राजधानी छोड़नी पड़ेगी. उनके इस बयान पर भाजपा ने तीखी प्रतिक्रिया दी थी.

रविवार को प्रकाश जावड़ेकर ने पीटीआई से बातचीत में कहा, ‘एनआरसी पर अरविंद केजरीवाल भ्रमित हैं और यह उनकी अपनी समझ है, यह देश के लोगों का विचार नहीं है. लोग जानते हैं कि कोई भी देश घुसपैठियों को रहने की इजाजत नहीं दे सकता. इसलिए एनआरसी बहुत महत्वपूर्ण है.’

भाजपा नेता के मुताबिक गृहमंत्री अमित शाह पहले ही स्पष्ट कर चुके हैं कि नागरिकता संशोधन विधेयक पारित किया जाएगा. विधेयक में मुस्लिम बहुल देशों अफगानिस्तान, पाकिस्तान और बांग्लादेश से आने वाले हिंदू, जैन, सिख, ईसाई, पारसी लोगों को नागरिकता देने का प्रावधान है, जो छह साल से अधिक समय से भारत में रह रहे हैं.

प्रकाश जावड़ेकर ने आरोप लगाया कि आम आदमी पार्टी (आप) की रणनीति झूठ के इर्दगिर्द बुनी गई है और यह दूसरों के कार्यों का श्रेय लेने की है. उन्होंने दावा किया कि अगले साल होने वाले दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा को प्रचंड बहुमत मिलेगा.

भाजपा को मई 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में दिल्ली की सातों सीटों पर जीत मिली थी. लेकिन 2015 में हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव में वह यह सफलता दोहरा नहीं सकी और पार्टी 70 में केवल तीन सीटों पर ही जीत दर्ज कर सकी थी.

इस बारे में पूछे जाने पर जावड़ेकर ने कहा, ‘इस बार भाजपा 2019 लोकसभा चुनाव की सफलता को विधानसभा चुनाव में भी दोहराएगी. हम दिल्ली में जीत रहे हैं और वह भी प्रचंड बहुमत से.’