भारतीय वायु सेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया ने कहा है कि पाकिस्तान के बालाकोट में हुआ हवाई हमला आतंकवाद के खिलाफ राजनीतिक नेतृत्व के संकल्प को दिखाता है. वायु सेना दिवस के मौके पर उनका यह भी कहना था कि आतंकवादी हमलों से निपटने के तरीके में यह एक बड़ा बदलाव है. पीटीआई के मुताबिक उन्होंने ये बातें गाजियाबाद के हिंडन एयरबेस में आयोजित एक कार्यक्रम में कहीं.

हाल ही में वायु सेना प्रमुख का पद संभालने वाले आरकेएस भदौरिया ने यह भी कहा कि भू-राजनीतिक वातावरण तेजी से बदल रहा है और अनिश्चितताओं ने राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए कई चुनौतियां खड़ी कर दी हैं. बालाकोट हवाई हमले का हवाला देते हुए वायु सेना प्रमुख ने कहा, ‘यह बेहद महत्वपूर्ण है कि हम आतंकवाद के इस्तेमाल के खतरे के प्रति हमेशा सतर्क और चौकन्ने रहें. इस साल वायुसेना ने आतंकी हमलों को अंजाम देने के वालों को दंडित करने के अपने संकल्प और क्षमता का प्रदर्शन किया है. हमें अपने देश की रक्षा को चुनौती देने वाली किसी भी आकस्मिक घटना से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार रहने की आवश्यकता है.’

इस साल 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले के बाद भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में हवाई हमले को अंजाम दिया था. एक ट्रेनिंग कैंप पर हुए इस हमले में बड़ी संख्या में आतंकी मारे गए थे.