भारतीय वायुसेना को पहला रफाल लड़ाकू विमान मिल गया है. फ़्रांस से खरीदे गए 36 रफाल लड़ाकू विमानों की श्रृंखला का यह पहला विमान मंगलवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की उपस्थिति में भारत को सौंपा गया.

पीटीआई के मुताबिक मंगलवार को राजनाथ सिंह इस रफाल लड़ाकू विमान को लेने के लिये फ्रांस के दक्षिण-पश्चिम शहर बरदो के मेरिनियाक में आयोजित एक समारोह में शामिल हुए. इस दौरान रक्षा मंत्री ने इस लड़ाकू विमान की शस्त्र पूजा की और इसके बाद उन्होंने इस विमान में करीब 25 मिनट की उड़ान भी पूरी की.

राजनाथ सिंह ने विमान को प्राप्त करने के बाद कहा, ‘यह एक ऐतिहासिक दिन है. यह भारत और फ्रांस के बीच गहरा संबंध दिखाता है. रफाल वायु क्षेत्र में भारत की ताकत को तेजी से बढ़ाएगा.’

भारतोय रक्षा मंत्री ने इससे पहले फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों के साथ विभिन्न मुद्दों पर बातचीत की. उन्होंने इस मुलाकात के दौरान कहा कि उनकी यात्रा का उद्देश्य भारत और फ्रांस के बीच रणनीतिक साझेदारी को बढ़ाना है.

भारत ने 59,000 करोड़ रूपये के सौदे के तहत सितंबर 2016 में फ्रांस से 36 लड़ाकू विमान खरीद का ऑर्डर दिया था. चार रफाल लड़ाकू विमानों की प्रथम खेप भारत में वायुसेना के अड्डे पर मई 2020 में आएगी. सभी 36 लड़ाकू विमानों के सितंबर 2022 तक भारत पहुंचने की उम्मीद है.