पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को कहा कि काश वह चीन में भ्रष्टाचार के खिलाफ राष्ट्रपति शी चिनफिंग के अभियान की तरह अपने यहां 500 भ्रष्ट लोगों को जेल में डाल पाते. इमरान खान ने चीन में चाइना काउंसिल फॉर प्रमोशन ऑफ इंटरनेशनल ट्रेड को संबोधित करते हुए यह बात कही. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में निवेश के रास्ते में भ्रष्टाचार एक बड़ी अड़चन बन गया है और चीन के नेतृत्व से उन्होंने भ्रष्टाचार पर लगाम कसना सीखा है.

दो दिन की राजकीय यात्रा पर चीन आये इमरान खान के हवाले से पाकिस्तान के डॉन अखबार ने लिखा है, ‘राष्ट्रपति शी चिनफिंग के सबसे बड़े अभियानों में से एक अभियान भ्रष्टाचार के खिलाफ है.’ खबर के मुताबिक, इमरान खान ने कहा कि उन्होंने चीन में शी चिनफिंग के शासन में पिछले पांच साल में करीब 400 मंत्री स्तर के लोगों को भ्रष्टाचार के आरोपों में दोषी ठहराये जाने और जेल में डाले जाने की बात सुनी है. इमरान खान ने कहा, ‘काश मैं राष्ट्रपति शी की तरह उदाहरण पेश कर पाता और पाकिस्तान में 500 भ्रष्ट लोगों को जेल में डाल पाता.’

इमरान खान ने चीन में 2012 में शुरू किये गये चिनफिंग के व्यापक भ्रष्टाचार निरोधक आंदोलन का जिक्र किया, जिसमें अनेक स्तरों पर 13 लाख से अधिक अधिकारियों को जांच के दायरे में लिया गया है. इमरान ने कहा कि दुर्भाग्य से पाकिस्तान में मामलों की प्रक्रिया बहुत जटिल है. हालांकि, पाकिस्तान में भ्रष्टाचार के आरोपों में पहले ही विपक्ष के कई नेता जेल में हैं और पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ भी भ्रष्टाचार के मामलों का सामना कर रहे हैं.